News Description
सभी सरकारी व गैर सरकारी संस्थानों में आइटीआइ शिक्षुओं को रखने के आदेश

अंबाला शहर: सभी सरकारी और गैर सरकारी संस्थानों, निगमों, बोर्ड व अन्य विभागों को खुद को अप्रेंटिशिप पोर्टल पर खुद को पंजीकृत कराना अनिवार्य है। सभी सरकारी व गैर सरकारी विभाग खुद को पंजीकृत करवाने के साथ-साथ अपने-अपने विभागों की खाली सीटों के अनुसार शिक्षु लगाना सुनिश्चित करें। डीसी कार्यालय में जिला शिक्षुता कमेटी की बैठक में डीसी शरणदीप कौर ने यह बात कही। डीसी की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में बिजली निगम, आइटीआइ, शिक्षा विभाग सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे। बता दें कि सभी सरकारी और गैर सरकारी विभागों, निगमों व बोर्ड में स्वीकृत पदों की 10 फीसदी सीटों पर आइटीआइ से पास आउट शिक्षुओं को नियुक्ति देने के निर्देश सरकार की ओर से जारी हुए हैं। इनमें नगर निगम, पुलिस विभाग, बिजली विभाग, शिक्षा विभाग सहित सभी सरकारी व गैर सरकारी विभाग सभी में इनकी नियुक्ति कराई जानी है। शिक्षुओं को न्यूनतम मानदेय 8100 रुपये प्रति माह का 70 से 90 फीसदी हिस्सा मानदेय के रूप में देना है। वहीं अर्थ सरकारी व निजी विभागों को कम से कम कुल सीटों की ढाई फीसदी सीटें इन शिक्षुओं की लिए आरक्षित रख उन्हें नियुक्ति दिलानी हैं।

---------------------

डीसी मैडम के साथ आज बैठक में सभी विभागों के अधिकारियों को अप्रेंटिसशिप पोर्टल पर खुद को पंजीकृत कराने के साथ-साथ शिक्षुओं को अपने-अपने विभागों में लगवाना भी सुनिश्चित करना है। इस बारे में 14 दिसंबर को आइटीआइ अंबाला शहर में दोपहर दो बजे वर्कशॉप भी रखी गई है ताकि जिस भी विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों को कोई समस्या हो उसे निपटाया जा सके। इसके अलावा 15 दिसंबर को पंचायत भवन में डीसी मैडम की बैठक के बाद भी कृष्ण कुमार शिक्षुता अनुदेशक से संपर्क किया जा सकता है।

भूपेंद्र ¨सह, ¨प्रसिपल, राजकीय आइटीआइ अंबाला शहर।