News Description
चाचा राम ¨सह का निधन

 

फरीदाबाद : आल इंडिया बन्नू बिरादरी के मार्गदर्शक 92 वर्षीय चाचा राम ¨सह का मंगलवार को निधन हो गया। वर्ष 1948 में एनआइटी फरीदाबाद की स्थापना से पूर्व देश विभाजन के समय उत्तर-पश्चिमी सीमा प्रांत(अब पाकिस्तान में) के जिला बन्नू में ही छोड़ कर दो-चार जोड़ी कपड़ों के साथ फरीदाबाद रच बस गए चाचा राम ¨सह ने अगस्त माह में आजादी के आंदोलन की यादें दैनिक जागरण के साथ साझा की थी और अंग्रेजों के खिलाफ नारे लगाने के आरोप में उन्हें एक महीने की जेल भी हुई थी। शहर में वो चाचा के नाम से प्रसिद्ध हुए। मंगलवार को सेक्टर-15 निवास से उनका पार्थिव शरीर एनआइटी एक डी ब्लॉक में लाया गया और फिर सेक्टर-22 स्थित स्वर्गाश्रम पर अंतिम संस्कार किया गया। इस अवसर पर विभिन्न राजनीतिक दलों, व्यापारिक, औद्योगिक, सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि मौजूद थे।

पूर्व महासचिव को पितृ शोक

तीन ई ब्लॉक आरडब्ल्यूए के पूर्व महासचिव यशपाल तनेजा के पिता सुंदर लाल तनेजा का सोमवार रात्रि निधन हो गया। मंगलवार को सैनिक कॉलोनी मोड़ पर स्थित स्वर्गाश्रम में दिवंगत सुंदर लाल का अंतिम संस्कार हुआ। इस मौके पर आरडब्ल्यूए के प्रतिनिधि, सामाजिक एवं धार्मिक संस्थाओं के प्रतिनिधि मौजूद थे।