News Description
अनुबंध रद का नोटिस तैयार, कभी भी हो सकता है जारी

पानीपत: हरियाणा एनएचएम कर्मचारी संघ के प्रदेश व्यापी आह्वान पर 5 दिसंबर को शुरू हुई एनएचएम (नेशनल हेल्थ मिशन) के कर्मचारियों की हड़ताल सातवें दिन सोमवार को भी जारी रही। नेशनल हेल्थ मिशन के निदेशक के संकेत पर सिविल सर्जन कार्यालय ने हड़ताल पर गए कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई की तैयारी कर ली है। अनुबंध रद होने के नोटिस तैयार कर लिए गए हैं, कभी भी थमाए जा सकते हैं।

नेशनल स्वास्थ्य मिशन के 250 से अधिक कर्मचारी अपनी 22 सूत्रीय मांगों को लेकर सोमवार को भी स्ट्राइक पर रहे। दो दिन की सांकेतिक हड़ताल पर गए कर्मचारियों ने पहले दो दिन बढ़ाकर 8 दिसंबर तक, बाद में तीन दिन और बढ़ाकर 11 दिसंबर तक हड़ताल करने का नोटिस सिविल सर्जन को दिया था। मांगें पूरी नहीं होने पर अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी भी दी थी। इधर, सिविल सर्जन कार्यालय से करीब 300 लोगों के विरुद्ध नोटिस तैयार किया गया । नोटिस में अगले 24 घंटे में काम पर लौटने के निर्देश दिए गए। सोमवार को दोनों पक्षों द्वारा दी गई अवधि खत्म हो गई। सरकार और कर्मचारी टस से मस होने को तैयार नहीं दिखे। एनएचएम, पानीपत के जिला प्रधान अमित मलिक के नेतृत्व में कर्मचारियों ने सिविल सर्जन को अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का नोटिस थमा दिया है।

इधर, सिविल सर्जन डॉ. संतलाल वर्मा ने बताया कि एनएचएम के निदेशक ने हड़ताल पर गए कर्मचारियों का अनुबंध खत्म करने का संकेत दिया है। सभी के नोटिस तैयार कर लिए गए हैं। निर्देश मिलते ही नोटिस जारी कर दिए जाएंगे। इधर, अनुबंध खत्म होने के डर से कुछ कर्मचारी काम पर लौट गए थे, सोमवार को वह फिर से हड़ताल में शामिल हो गए।