News Description
गरीब बच्चों को रोजगारोन्मुखी ट्रेनिंग दे रही अमिता मरवाहा

पंचकूला : पंचकूला में गरीबों की संख्या कम नहीं है। कुछ ऐसे भी लोग हैं, जिन्हें दो समय की रोटी नहीं मिल पाती। वे स्कूल जाने की सोच भी नहीं सकते। गरीबों की मदद के लिए गिने-चुने ही लोग आगे आते हैं, ताकि गरीब बच्चे एवं युवा अपने पैरों पर खड़े हो सकें।

रोजगार उनके पास आए और वह दूसरों का सहारा बने। परंतु ऐसी एक शख्सियत पंचकूला में है, जोकि पिछले कुछ वर्षाें से बड़ी सक्रियता से गरीबी उन्मूलन में जुटी हुई है। इस शख्सियत का नाम है अमिता मरवाहा। अमिता मरवाहा ने कुछ ऐसे युवाओं की एक टीम बनाई है, जोकि सिर्फ और सिर्फ गरीबों के लिए काम करना चाहते हों। उनकी टीम में आज लगभग 50 ऐसे युवा हैं, जोकि स्लम एरिया में जाकर गरीब बच्चों को रोजगारोन्मुखी ट्रेनिंग दे रहे हैं।

अमिता मरवाहा एक्टिविटी टीम रोजाना पंचकूला एवं आसपास की कॉलोनियों में जाकर युवाओं को पेंटिंग सिखाती है। साथ ही ताइक्वाडो की ट्रेनिंग देती है, ताकि गरीब युवा आगे चलकर अपने ट्रेनिंग सेंटर खोल सकें। स्पेशल क्लास 17 दिसंबर से रैला आंगनवाड़ी स्कूल, खड़क मंगोली, माजरी चौक, नाडा साहिब स्लम एरिया में 12 बजे से चलेंगी। जिसमें लड़कियों, महिलाओं और बच्चों को फ्री ट्रेनिंग दी जाएगी। बच्चों को आर्ट एंड क्राफ्ट, पेंटिंग, क्राफ्ट वर्क, पेपर बैग बनाने सिखाए जाएंगे।