News Description
टेंट गाड़कर बैठे एनएचम कर्मचारी, 7वें दिन भी सरकार मंत्री के खिलाफ की नारेबाजी

सातवेंदिनभी एन एचएम कर्मचारियों की हड़ताल जारी रही। बारिश के बीच भी कर्मी डटे रहे। सोमवार से टेंट भी लगा लिया। सोमवार को घरों से चम्मच, थाली लेकर अस्पताल पहुंचीं महिला कर्मचारियों ने कहा कि भाजपा सरकार गूंगी बहरी है। जिसे अपनी आवाज सुनाने के लिए थालियां बजानी पड़ी। धरना स्थल पर करीब 50 कर्मचारियों ने सरकार एवं स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ नारेबाजी की। 504 एन एचएम कर्मचारियों में से 291 कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया। यूनियन प्रधान कुलविंद्र कौर ने कहा कि कर्मचारी किसी भी सूरत में हार नहीं मानेंगे। 

समर्थनमें उतरी कई संस्थाएं : सोमवारको एन एचएम कर्मचारियों का जिलेभर की आशा वर्कर, जनसंघर्ष मंच सदस्य समर्थन देने पहुंचे। जन संघर्ष मंच की अध्यक्षा सुदेश कुमारी ने कहा कि सरकार को कर्मचारियों के हितों की तरफ देखना चाहिए। कर्मचारी अपने हक को लड़ रहे हैं। सात दिनों से सरकार के हठ की वजह से स्वास्थ्य सुविधाएं प्रभावित हो रही हैं। वहीं मेडिकल ट्रेड यूनियन स्टेट कॉर्डिनेटर सुरेश कुमार, पब्लिक हेल्थ पिहोवा ब्लॉक प्रधान बलवान सिंह, एसकेएस गुरचरण सिंह ने कहा कि सरकार अपनी हठ के कारण आमजन को परेशानी में डाल रही है।