News Description
मंडियों में बरसात से भीगा धान, किसान परेशान

सिरसा : बरसात के मौसम से ही मंडी में पड़े अनाज के भीग जाने का भय बनने लगता है, सोमवार को भी यही हुआ और मंडी में पड़ा हजारों ¨क्वटल धान बरसात से भीग गया। हालांकि बरसात हल्की होने के कारण अधिक नुकसान होने से बच गया।

इस समय मंडी में लगभग 10 हजार ¨क्वटल धान पड़ा हुआ है। जिसमें से अधिकतर धान की ढेरियां व बोरियां बाहर लगी हुई है। रविवार रात्रि से ही आसमान में बादल छाने के साथ बरसात की संभावना लगने लगी और सोमवार को दोपहर बाद जैसी ही बरसात होने लगी तो मंडी में पड़ा धान इसकी चपेट में आने से नहीं बच पाया। खुले में लगी ढेरी किसान की और बोरियों में बंद सरकार का धान भीग गया। हालांकि मार्केट कमेटी अधिकारियों का मानना है कि अधिकतर धान शेड के नीचे होने के चलते भीगने से बच गया।

समय पर आढ़तियों को चेतावनी देने की वजह से भी काफी बचाव हुआ है। विभागीय अधिकारियों के इन दावों के बीच हकीकत यह भी है कि पूरी तरह से व्यवस्था न होने के चलते धान का नुकसान हुआ है