# रक्षा मंत्रालय ने इजरायल के साथ रद्द की 500 मिलियन डॉलर की मिसाइल डील         # कालेधन पर भारत को जानकारी देंगे स्विस बैंक, पैनल की मंजूरी         # गुजरात चुनाव: कांग्रेस ने जारी की पहली लिस्ट, 77 उम्मीदवारों के नामों का ऐलान         # दीपिका पादुकोण को जिंदा जलाने पर रखा 1 करोड़ का इनाम         # कश्मीर घाटी में लश्कर के शीर्ष नेतृत्व का सफाया: सेना         # आसमान छू रहे अंडों के दाम, चिकन के बराबर पहुंची कीमतें         # महाराष्ट्र: सड़क किनारे टॉयलेट करते पकड़े गए जल संरक्षण मंत्री राम शिंदे         # चीन में नए भारतीय राजदूत के रूप में आज कार्यभार ग्रहण करेंगे बंबावले         # ICJ चुनाव में भारत को रोकने के लिए ब्रिटेन ने चली गंदी चाल        
News Description
हरियाणा रोडवेज के बेड़े में जल्द ही शामिल की जाएंगी 600 नई बसें

चंडीगढ, 30 जून- हरियाणा के परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार ने कहा कि हरियाणा रोडवेज के बेड़े में जल्द ही 600 नई बसें शामिल की जाएंगी, इनमें से 300 बसों की चेसिस गुडग़ांव वर्कशाप में पहुंच चुकी है और 300 जल्द ही पहुंच जाएंगी। इन बसों के सडक़ों पर उतरने के बाद हरियाणा रोडवेज के मौजूदा 4200 बसों के बेड़े की संख्या बढकऱ 4800 हो जाएगी। 
यह जानकारी आज उन्होंने सोनीपत में जिला कष्ट निवारण एवं परिवाद समिति की बैठक के बाद दी।
सीएनजी बसों में ईंधन भरवाने की दिक्कत के संबंध में उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार में बगैर सीएनजी पंपों की आपूर्ति के सीएनजी की बसें खरीद ली गई। यह लो फ्लोर बसें हरियाणा की सडक़ों के मानकों के अनुसार भी नहीं थी और सीएनजी ईंधन भरवाने के लिए भी बार-बार दिल्ली जाना पड़ता था। ऐसे में अब इस समस्या का हल निकाला जा रहा है। उन्होंने कहा कि जैसे ही पूरे हरियाणा में सीएनजी का नेटवर्क हो जाएगा उसके बाद नई सीएनजी बसों पर विचार किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि जल्द ही हरियाणा रोडवेज में 1500 ड्राईवर व 800 कंडक्टरों की भर्ती की जाएगी इसके लिए आवेदन भी लिए जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि तब तक एडहाल पर भी चालक व परिचालक रखे जाने की सरकार की योजना है।  उन्होंने कहा कि गाड़ी चलाते समय मोबाईल पर बात  उन्होंने कहा कि हरियाणा में फिलहाल दो लाख परिवारों के पास मकान नहीं हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी लोगों को 2022 तक सभी को मकान देने का वायदा किया है। प्रदेश सरकार भी इसी नीति पर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि जमीन मुहैया करवाने पर प्रदेश के सभी बड़े गांवों और ब्लाकों में भी हाउसिंग बोर्ड की कालोनियां विकसित