News Description
डोली पहुंचने से पहले घर पर आई ऐसी खबर, हादसे में दूल्हे की मां की हुई मौत

अंबाला।चंडीगढ़-मनाली हाइवे पर कांगू के पास टैंपो-ट्रेवल खाई में गिरने से जिन पांच की मौत हुई है, उनमें दूल्हे की मां नीलम सेठी भी शामिल हैं। यहां बहू आने की आस कर रहे अन्य रिश्तेदार बरातियों को जब हादसे की सूचना मिली तो सभी हैरान रह गए। शादी की तमाम खुशियां भी मातम में बदल गई। अब दूल्हे के घर में सन्नाटा पसरा है और हर कोई गमगीन माहौल के बीच दुख की इस घड़ी को कम करने की कोशिश कर रहा हैरविवार रात को अंबाला के रहने वाले विवेक सेठी की हिमाचल के मंडी जिले के सुंदरनगर में शादी थी। सभी रविवार सुबह ही सुंदरनगर के लिए टैंपो-ट्रेवल व अन्य गाड़ियों से रवाना हो गए।

- रात को शादी का काम खत्म करने के बाद बराती सोमवार को दूल्हे और दुल्हन के साथ अंबाला की तरफ लौट रहे थे।

- टैंपो-ट्रेवल में दूल्हे की मां सहित 14 बराती सवार थे। जब दोपहर को यह गांव कांगू के पास पहुंचे तो ट्रैंपो-ट्रेवल अनियंत्रित होकर खाई में गिर गया।

- पता चला है कि इस हादसे में धर्मपाल, महेंद्र टक्कर व पत्नी संतोष रानी, नीलम सेठी , शशि ओबराय सेक्टर दस की मौके पर मौत हो गई जबकि हरीश सेठी सेक्टर नौ, रीमा देवी, दर्शना देवी, ड्राइवर विक्रम सिंह पूजा विहार कैंट घायल हो गए।

बीएसएनएल में एजीएम कार्यरत थे टक्कर

- सेक्टर दस में रहने वाले महेंद्र सिंह टक्कर बीएसएनएल कैंट में एजीएम के पद पर कार्यरत थे और सेठी परिवार के बेहद नजदीक थे।

- वह अपनी पत्नी संतोष रानी के साथ शादी में गए थे। मगर इस दंपती की हादसे में मौत हो गई। - बताया जा रहा है कि टक्कर के दो बेटे हैं। दोनों ही जॉब करते हैं। इसके अलावा शशि ओबराय पंजाब के एक स्कूल में टीचर कार्यरत थी।

- उनके पति चंद्रप्रकाश ओबराय की करीब छह साल पहले मृत्यु हो गई थी। वह बालभवन में मैनेजर के पद पर कार्यरत थे।