# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
कृषि दवा निर्माता कम्पनी व डीलर पर लोक अदालत में लगाया गया दस-दस हजार रूपये का जुर्माना

दिसम्बर। जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण द्वारा गत 9 दिसम्बर को जिला न्यायालय परिसर सैक्टर-12 में आयोजित की गई जिला स्तरीय राष्ट्रीय लोक अदालत के अन्तर्गत मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी तरूण सिंघल की अदालत ने कृषि सम्बन्धी दवा निर्माता एसडीएस रामसाईड्स कम्पनी व डीलर अजीत खाद भण्डार छायंसा पर कम गुणवत्ता वालीदवा ईबनाने व बेचने के जुर्म में दस-दसहजार रूपये का जुर्माना कियाहै।
कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के जिला कृषि उप निदेशक आत्माराम गोदारा ने बताया कि उनके विभाग के गुण नियंत्रण निरीक्षक, फरीदाबाद श्री केसरीदत्त ने उक्त कम्पनी द्वारा निर्मित कृषि दवाई प्रीफेनोफोस 40 प्रतिशत जमासाईरमेथ्रीन 40 प्रतिशत ई.सी. का सैम्पल लिया था। उनके परीक्षण के दौरान यह सैम्पल मिसब्राण्डिड व कम गुणवत्ता का पाया गया।मामले की सुनवाई जिला न्यायालय में लम्बित थी। उक्त लोक अदालत की कार्यवाही के फलस्वरूप सीजेएम श्रीसिंघल की कोर्ट ने यह जुर्माना लगाने के आदेश दिए हैं। अदालत के निर्णय के फलस्वरूप जिले में कृषि सम्बन्धी दवा निर्माता व विक्रेता डीलर और अधिक सचेत होकर कार्य करेंगे।