News Description
ऐशो आराम की ख्वाहिश ने बना दिया वाहन चोर, 13 चुराई बाइक पुलिस ने बरामद की

 हिसार :सिविल लाइन थाने के अंतर्गत पीएलए चौकी की टीम ने वाहन चोरी के आरोप में डाबड़ा गांव निवासी प्रमोद को गिरफ्तार किया है। उससे सख्ती से पूछताछ करने पर 13 वाहन चोरी करने के मामलों की पटाक्षेप हुआ है। आरोपी ने पुलिस पूछताछ में खुलासा किया है कि ऐशो-आराम की ख्वाहिश ने उसे वाहन चोर बना दिया। वह ठाठ-बाट की ¨जदगी जीना चाहता है, जिसके लिए उसने एक के बाद एक कई वाहन चोरी कर लिए। इन वारदातों में उसका सहयोग मलखेड़ा, भादरा, राजस्थान निवासी प्रीत देता था, जिसकी गिरफ्तारी होना बाकी है। फिलहाल आरोपी प्रमोद से चोरीशुदा बाइक बरामद हो चुकी हैं। आरोपी प्रमोद पहले भी वाहन चोरी के मामले में जेल जा चुका है, जोकि जमानत पर आने के बाद फिर चोरी करने लगा। फिलहाल आरोपी प्रमोद को सोमवार सुबह अदालत में पेश किया जाएगा।

पीएलए चौकी के इंचार्ज जगदीश चंद्र ने बताया कि कैंप चौक पर नाकाबंदी की हुई थी। उस दौरान एएसआइ विजय कुमार, दयाराम, ईएएसआइ मेहर ¨सह, एचसी संदीप कुमार, अनिल कुमार और सिपाही सुनील कुमार वाहनों की जांच कर रहे थे। उस दौरान टाउन पार्क की तरफ से एक लड़का बाइक पर सवार होकर आ रहा था। उसे रुकने का इशारा किया लेकिन वह वापस मोड़कर फरार होने लगा। तभी टीम ने उसे दौड़कर काबू कर लिया। उसने अपना नाम डाबड़ा गांव निवासी प्रमोद बताया। सख्ती से पूछताछ करने पर बोला कि उसने और दोस्त प्रीत ने मिलकर यह बाइक पांच नवंबर को टाउन पार्क के सामने से शाम साढ़े सात बजे चोरी किया था। इसे बेचने के लिए सिरसा जा रहा था। पुलिस टीम ने आरोपी को वाहन चोरी के मामले में गिरफ्तार करके सख्ती से पूछताछ की, जिसमें उसने चौंकाने वाला खुलासा किया था। आरोपी प्रमोद ने बताया कि उसका सपना और इच्छा थी कि वह ऐश करे। उसके पास पैसों की कोई कमी ना हो। इसलिए पिछले साल दो मोटर साइकिल चोरी किए थे। उन्हें बेच नहीं पाया था लेकिन पुलिस के हत्थे चढ़ गया था। उसे अदालत ने जेल भेज दिया था। अभी जमानत रिहा हूं। सपना पूरा करने के लिए फिर से वाहन चोरी करने लग गया। ऐसी लत लग गई कि 13 बाइक चोरी कर ली। आरोपी प्रमोद ने बताया कि चोरीशुदा सभी मोटर साइकिलों को अलग-अलग स्थानों पर छिपाकर रखा हुआ था। वह सभी बाइक को एक साथ बेचना चाहता था। तब अच्छी रकम मिल जाती और वह मौजमस्ती कर सकता था। पुलिस ने आरोपी से रिमांड के दौरान छिपाई गईं 12 बाइक समेत 13 बाइक बरामद कर ली हैं।

.......

प्रमोद ने किया इन वारदातों का खुलासा

- 5 दिसंबर 2017 को टाउन पार्क की पार्किंग से बाइक को चुराई थी

- 17 नवंबर 2017 को पीएलए मार्केट की पार्किंग से बाइक चुराई थी

- 9 नवंबर 2017 को सरकारी प्राइमरी स्कूल सेक्टर 16,17 से बाइक चुराई थी

- 6 नवंबर 2017 को प्रीत के साथ पुष्पा कॉम्पलेक्स से बाइक चुराई थी

- 27 नवंबर 2017 को प्रीत के साथ मार्केट से बाइक चुराई थी

- 2 नवंबर 2017 को प्रीत के साथ सीएमसी अस्पताल से बाइक चुराई थी

- करीबन ढाई महीने पहले ऑटो मार्केट के पास ¨जदल पार्क हिसार की पार्किंग से बाइक चुराई थी

- करीबन दो-तीन महीने पहले मार्केट कमेटी के बने शौचालय के सामने से बाइक चुराई थी

- करीबन 15 दिन पहले प्रीत के साथ डाबड़ा चौक से बाइक को चुराई थी

- करीबन डेढ़ माह पहले आधार अस्पताल के गेट से बाइक चुराई थी

- 6 दिसंबर 2017 को पीएलए मार्केट में समाचार के दफ्तर के पीछे से बाइक चुराई थी

- 19 नवंबर 2017 को जिमखाना क्लब के पास से बाइक चुराई थी।