# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
बस स्टैंड पर महिला सरपंच का नाम हटवा पति का लिखवाया

सरकार ने भले ही महिलाओं को बराबरी का दर्जा देने के लिए पंचायती राज संस्थाओं में आरक्षण का प्रावधान कर उन्हें प्रतिनिधित्व दे दिया हो। लेकिन हकीकत में अभी भी समाज में पुरुषों का नजरिया महिलाओं के प्रति नहीं बदला है। बेशक सरपंच की चौधर महिला के पाले में आई हो लेकिन नाम अभी भी उनके पतियों का चमक रहा है।

ऐसा ही ²श्य देखने को मिला उपमंडल के गांव जापतेवाला में। यहां की सरपंच महिला लवप्रीत कौर है लेकिन नाम उनके पति सुखदीप ¨सह अपना चमकाने की चाहत में लगे है। गत दिनों सार्वजनिक जगह पर निर्माण किए बस स्टैंड की इमारत के ऊपर महिला सरपंच के पति ने बड़े अक्षरों में खुद का नाम लिखवा दिया है। ऐसा कर उन्होंने सरपंच के कार्य से छेड़छाड़ कर पंचायती राज कानून का भी मजाक उड़ाया है। सरपंच के पति के इस आचरण से प्रशासन भी सकते में है। अब देखना होगा कि पंचायत विभाग इस कार्य को गलती मानकर सरपंच के पति को हिदायत देती है या फिर उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई अमल में लाएगी। उलेखनीय है कि गत वर्ष गांव जापतेवाला में महिला लवप्रीत को सरपंच चुना गया था। जबकि सरपंच के कार्य मे उसके पति ने छेड़छाड़ शुरू कर दी है। जिसके चलते कुछ दिन पहले गांव में पंचायत द्वारा सार्वजनिक जगह पर बस स्टैंड का निर्माण करवाया गया था। जिस पर महिला सरपंच के पति सुखदीप ¨सह ने अपनी मनमर्जी करते हुए सरपंच की जगह खुद का नाम लिखवा दिया है और करीब 2 महीने गुजर जाने के बाद अब भी वहां पर सरपंच का नाम दिखाई नहीं दिया।

---------------

वर्जन

सरपंच प्रतिनिधि ने अनजाने में खुद का नाम लिखवा दिया था जो गलत है। और इसको जल्द ही दुरुस्त करवा दिया जाएगा। वे मौके का निरीक्षण कर जांच करेंगे।

::महादेव ¨सह, ग्राम सचिव जापतेवाला।

-------------------

वर्जन

गांव में हो रहे विकास कार्य पर सरपंच का नाम अनिवार्य है। सरपंच का नाम पहले लिखा होना चाहिए चाहे सरपंच महिला हो या फिर पुरुष। अगर गांव जापतेवाला में सरपंच के पति ने नवनिर्माण बस स्टैंड पर खुद का नाम लिखवाया है तो यह गलत है। यह बात मेरे संज्ञान में नही है। ऐसा है तो इस पर विभागीय करवाई की जाएगी और लिखे गए सरपंच प्रतिनिधि के नाम को जल्द ही दुरुस्त करवाया जाएगा।