News Description
गली में तेज कार चलाने पर झगड़ा, 11 घायल

अंबाला : नगर निगम के टूंडली में गली में से तेज कार चलाने पर दो पक्षों में खूनी संघर्ष हुआ। दोनों पक्षों में 11 लोग इस झगड़े में घायल हो गए हैं जिन्हें इलाज के लिए छावनी के नागरिक अस्पताल में देर शाम को लगा गया है। जहां से एक पक्ष की ओर से कार चालक गुरप्रीत ¨सह और बल¨जद्र ¨सह को अंबाला शहर ट्रामा सेंटर में रेफर कर दिया गया है। जहां पर उनका इलाज किया जा रहा है। सूचना मिलने के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंच कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

घायल युवराज ने बताया कि रात को उसकी बहन की रात को शादी है और वह शाम को अपनी बहन को सजने के लिए छोड़ने के लिए पार्लर गया था। छोड़ने के बाद उसने अपनी कार घर के बाहर गली में ही खड़ी की थी कि उसके पड़ोस में आया हुआ युवक गुरप्रीत बहुत ही तेजी के साथ कार को गली से निकाल कर ले गया। जब उसे बोला गया है कि शादी का माहौल और बच्चों से लेकर बड़ा सड़क से आ जा रहे हैं जिससे कोई भी हादसा हो सकता है। इतनी सी बात पर गुरप्रीत और युवराज में कहासुनी हो गई है और बाद में गुरप्रीत ने फोन अपने जीजा नवजोत ¨सह को फोन कर दिया। फोन सुनते ही नवजोत ¨सह अपने पिता कुलदीप ¨सह, साढू बल¨जद्र ¨सह और गुरजीत ¨सह के साथ मौके पर पहुंच गए। युवराज का आरोप है कि गुरप्रीत ने उसे पहले थप्पड़ मारा। इसके बाद उसके जीजा ने अपने अन्य रिश्तेदारों के साथ उस पर हमला बोल दिया। उधर, दूसरे पक्ष की ओर से कार चालक गुरप्रीत के जीजा नवजोत ¨सह ने कहा कि उसकी पत्नी ने बेटे को जन्म दिया है और सवा महीने होने पर कार्यक्रम था जिसमें उसका साला भी आया हुआ था उसके साले का फोन उसके फोन पर आया था जिसके बाद वह मौके पर गए थे जब वह मौके पर गया तो युवराज अपने परिजनों के साथ मारपीट कर रहा था। इस झगड़े में युवराज के पक्ष की ओर से सोहन कुमार, वेद प्रकाश, गौरव, तुषार, बाला, बांतो को चोटें आई हैं तो दूसरी तरफ कार चालक गुरप्रीत पक्ष की ओर से नवजोत, कुलदीप, गुरजीत ¨सह और बल¨जद्र ¨सह घायल हो गए। सभी घायलों का नागरिक अस्पताल में प्राथमिक उपचार किया जा रहा है तो वहीं पुलिस ने भी दोनों पक्षों के बयान दर्ज कर आगामी जांच शुरू कर दी है।