News Description
आंगनबाड़ी वर्कर और हेल्पर को 4 महीने से नहीं मिला मानदेय

पानीपत : आंगनबाड़ी वर्कर्स एंड हेल्पर यूनियन ने मांगों को लेकर सांसद अश्वनी चोपड़ा के नाम नायब तहसीलदार सुमन लता को ज्ञापन सौंपा। इससे पहले गीता कालोनी स्थित सीटू कार्यालय में मीटिंग की।

जिला प्रधान कमला ने कहा है कि आंगनबाड़ी वर्कर और हेल्पर को 4-5 महीने से मानदेय नहीं मिला है। आंगनबाड़ी केंद्रों में पिछले एक साल से गु्रपों को पैसा नहीं मिल रहा। ऐसे हालात में कैसे राशन बन सकता है। सचिव सुमित्रा ने कहा कि सरकार अपने वायदे के अनुसार वर्कर व हेल्पर को स्थायी करे। 45वें श्रम सम्मेलन की सिफारिस लागू हो। न्यूनतम वेतन 18 हजार रुपये प्रति हो।

सरकार की नीतियों के खिलाफ 17 जनवरी को देशव्यापी हड़ताल में वर्कर और हेल्पर भाग लेंगी।