News Description
37वें दिन में पहुंचा अतिथि अध्यापकों का धरना

संवाद सहयोगी, शाहाबाद : अतिथि अध्यापकों द्वारा प्रदेश के मुख्यमंत्री सहित अन्य मंत्रियों के आवास पर किया जा रहा क्रमिक अनशन 37वें दिन भी जारी रहा। हरियाणा अतिथि अध्यापक संघ के प्रदेश प्रवक्ता राजेश शर्मा व जिला प्रधान राजेंद्र ¨सह ने राज्य मंत्री कृष्ण बेदी के आवास पर दिये जा रहे धरने के दौरान आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार द्वारा अतिथि अध्यापकों का रोजगार छिनना वर्तमान सरकार के तीन वर्षों की बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने आरोप लगाया कि क्योंकि प्रदेश सरकार अपने घोषणा पत्र में अतिथि अध्यापकों को नियमित करने के किये गये वादों को तीन वर्षों में तो पूरा नहीं कर सकी। इसलिए तरह तरह के बहाने बना कर पिछले ग्यारह वर्षों से भी अधिक समय से सरकारी विद्यालयों में पढा रहे अतिथि अध्यापकों का रोजगार छिनकर उन्हें बेरोजगार करने पर तुली है। जबकि प्रदेश के शिक्षा मंत्री रामविलास शर्मा व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने प्रदेश में भाजपा की सरकार बनते ही अतिथि अध्यापकों को नियमित करने का वायदा किया था। परंतु अतिथि अध्यापकों को बेरोजगार करना यह दर्शाता है कि प्रदेश सरकार ने अपने घोषणा पत्र के माध्यम से व इन मंत्रियों ने केवल वोट के लिए पंद्रह हजार से अधिक परिवारों से इतना बड़ा धोखा किया है। क्रमिक अनशन पर पिहवा ब्लाक के रसोवीर ¨सह, जितेंद्र ¨सह, परमजीत, पवन बंसल व स¨लद्र कुमार क्रमिक अनशन पर बैठे। उन्होंने कहा कि जब तक प्रदेश सरकार उनकी नियमित करने सहित अन्य मांगें नहीं मान लेती, तब तक सरकार के झूठ के खिलाफ उनका आंदोलन जारी रहेगा।