News Description
गुरमीत के गनमैन ने किए सनसनीखेज खुलासे, हनीप्रीत की बढ़ी मुसीबत

डेरा सच्चा सौदा सिरसा प्रमुख व दुष्कर्म मामलों में जेल में बंद गुरमीत राम रहीम सिंह का एक गनमैन ने डेरा सच्‍चा सौदा को लेकर सनसनीखेज खुलासे किए हैं। इससे हनीप्रीत और विपासना के लिए मुसीबत बढ़ गई है।  गनमैन ने पुलिस के सामने 17 अगस्त को रची गई पूरी साजिश की पोल खोल दी है। यह गनमैन इस बैठक का चश्मदीद है और अब सरकारी गवाह बन गया है।

67 गवाहों की सूची में हरियाणा पुलिस का प्रधान सिपाही विकास कुमार भी शामिल है। वह 2008 से गुरमीत राम रहीम सिंह की सुरक्षा में तैनात था। वह अक्सर डेरे में ही रहता था। विकास कुमार ने बतौर गवाह पुलिस को बताया है कि 25 अगस्त को सीबीआइ की विशेष अदालत में पेशी से पूर्व 17 अगस्त को डेरे में हनीप्रीत और डॉक्टर आदित्य की अध्यक्षता में बैठक हुई थी। इसमें डेरा चेयरपर्सन विपासना भी मौजूद थीं। इसके अलावा बैठक में चमकौर सिंह, दिलावर इंसां, महेंद्र, गोबिंद, जसवीर, गोपाल, सुरेंद्र धीमान, गोबी राम, राकेश अरोड़ा, दान सिंह सहित 45 सदस्यीय कमेटी के सभी पदाधिकारी मौजूद थे। 

विकास कुमार अकेला ऐसा चश्मदीद गवाह है, जिसने इस बैठक में हिस्सा लिया और सारी बातें सुनी थी। विकास कुमार ने पुलिस के समक्ष माना है कि वह गुरमीत के सरकार व प्रशासन में प्रभाव के चलते चुप रहा। मगर 25 अगस्त को पंचकूला में हुई आगजनी से दुखी होकर उसने सरकारी गवाह बनने का फैसला किया।