News Description
हिंदुस्तान में हिदुओं के हितों पर कुठाराघात क्यों : साध्वी देवा ठाकुर

 भिवानी : साध्वी देवा ठाकुर ने कहा कि फिल्म निर्माता हिंदू समाज के इतिहास को तोड़ मरोड़ कर पेश कर रहे हैं। उत्तर भारतीयों पर डंडा चलाने वाले एमएनएस नेता राज ठाकरे खून अब क्यों ठंडा पड़ गया है। देश के कुछ मुख्यमंत्रियों ने तो फिल्म पद्मावती पर रोक लगाने की पहले ही घोषणा कर दी है, लेकिन मनोहरलाल देश के सबसे कमजोर मुख्यमंत्री हैं। मुख्यमंत्री ने अभी तक इस फिल्म को लेकर कोई टिप्पणी नहीं की है। साध्वी देवा ठाकुर बुधवार को हांसी रोड स्थित शकुंतला गार्डन में पत्रकारों से बातचीत कर रही थीं। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि जब देश का बंटवारा धर्म के आधार पर हो गया था तो अब ¨हदुस्तान में ¨हदुओं के ही हितों पर कुठाराघात क्यों चल रहा है। आज भी वक्फबोर्ड के नाम से हर शहर में हजारों एकड़ जमीन क्यों छोड़ी हुई है। उन्होंने एक सवाल के जवाब में यह तक भी कह डाला कि अब समय आ गया है कि ओवैसी जैसे लोगों की टांगे तोड़ी जाएं। उन्होंने 6 दिसंबर को बाबरी मस्जिद तोड़ने पर ¨हदुओं को बधाई दी और इस दिन को शौर्य दिवस बताया। उसने सवाल किया गया कि फिल्म पद्मावती आपने देखी नहीं है और इसका विरोध कहां तक सही है, इस पर साध्वी ने कहा कि घुमर नृत्य तो सभी ने देख लिया। राजपूत रानियां कभी इस तरह खुले बदन नृत्य नहीं करती थीं। लेकिन दीपिका पादुकोण क्या साबित करना चाह रही हैं, यह समझ नहीं आ रहा। साध्वी यहां तक भी कह गई कि दीपिका पादुकोण यदि पदमावती को सही मानती हैं तो वास्तव में ही उसे भी पहाड़ से छलांग लगा देनी चाहिए। एक सवाल के जवाब में साध्वी ने कहा कि यह ठीक है कि संतों को धैर्य के साथ रहना चाहिए। लेकिन कोई उनके समाज और इतिहास के साथ छेड़छाड़ करेगा तो हम गांधी वादी नहीं, बल्कि शहीद भगत ¨सह की विचारधारा वाले हैं। छेड़छाड़ करने वाले को जवाब जरूर दिया जाएगा। इस अवसर पर अमर राघव, शालू तंवर, विशाल ठाकुर, हरदीप राणा, मोनू तंवर, विक्रम राणा, नरेन्द्र राणा, जोगी राणा, काका सहित अनेक लोग मौजूद थे।