News Description
शहर को स्वच्छ व सुंदर बनाने के लिए नगर निगम पानीपत द्वारा ऐसी एप तैयार की

शहर को स्वच्छ व सुंदर बनाने के लिए नगर निगम पानीपत द्वारा एक ऐसी एप तैयार की गई है, जिसमें सफाई व्यवस्था को दुरूस्त करवाने का जिम्मा अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ-साथ आमजन के हाथ में भी होगा। एनड्रोयड बेस्ड इस एप में आमजन को कूड़े-कचरे की फोटो खींचकर अपलोड करनी होगी। उसके बाद सफाई प्रक्रिया का जिम्मा सम्बन्धित कर्मचारी के ऊ पर आना शुरू हो जाएगा। स्वच्छता मैप के नाम से इस एप्लीकेशन को शुरू कर दिया गया है।  
निगम आयुक्त शिव प्रसाद शर्मा, संयुक्त आयुक्त सुमन भांखड़ और सीएमजीजीए अक्षिता जैन ने आज संयुक्त रूप से इस एप  के तैयार होने के बाद इसका डेमो भी करके देखा। निगम आयुक्त शिव प्रसाद शर्मा ने बताया कि इस एप में कोई भी आम नागरिक गंदगी के ढेर या कूड़े की फोटो खींचकर उसे इस एप पर अपलोड कर सकता है। फोटो अपलोड होते ही तुरन्त प्रभाव से सम्बन्धित सफाई सुपरवाईजर के पास लोकेशन सहित फोटो पहुंच जाएगी। 
उन्होंने बताया कि उस कूड़े के उठान के लिए 48 घण्टे का समय निर्धारित है। सम्बन्धित कर्मचारी यदि 48 घण्टे में कूड़ा उठान नहीं करता है तो यह फोटो मुख्य सफाई निरीक्षक से लेकर निगम आयुक्त तक जाएगी और मोबाईल में स्थित एप में यह लाल व काले चिन्ह के साथ दिखाई देगी। इस कूड़ा उठान के बाद ही सम्बन्धित लोकेशन ग्रीन सिगनल में भी दिखाई देगी। 
शिव प्रसाद शर्मा ने बताया कि इस एप की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इस पर फोटो अपलोड होते ही स्वत: ही सम्बन्धित सुपरवाईजर के पास स्वयं चली जाती है। वह मौके पर जाकर उस क्षेत्र की अपनी टीम से सफाई करवाएगा और सफाई होने के बाद वह उस जगह की फोटो खींचेगा तथा उसे अपनी ओर से उस एप पर अपलोड करेगा, तब जाकर वह शिकायत उस एप से क्लीयर होगी। उन्होंने कहा कि यदि इसमें कोई भी कोताही बरती गई तो सम्बन्धित अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। 
निगम आयुक्त ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन को सफल बनाने के लिए स्वच्छ मैप एप को पब्लिक लेवल पर लांच किया गया है ताकि शिकायतों को निवारण तुरन्त प्रभाव से हो सके। इस स्वच्छ मैप एप को आमजन अपने एनड्रोयड या एपल मोबाईल फोन के गूगल या एपल प्ले स्टोर में से डाउनलोड कर सकता है। इस एप की सहायता से आम व्यक्ति अपने घर के आसपास पड़े कूड़े कचरे की फोटो खींचकर उस पर डाल सकता है, जिससे सफाई व्यवस्था को दुरूस्त करने में मदद मिलेगी। उन्होंने शहरवासियों से अपील की कि वे इस एप का प्रयोग सफाई व्यवस्था को आगे बढ़ाने में करें। इसके साथ-साथ अपने आसपास कूड़ा-कर्क ट न फैलाएं। कूड़े को निर्धारित स्थान पर ही डालें।  
फोटो परिचय-105033, 111134-निगम आयुक्त शिव प्रसाद शर्मा, संयुक्त आयुक्त सुमन भांखड़ और सीएमजीजीए अक्षिता जैन वीरवार को संयुक्त रूप से स्वच्छता मैप एप का डेमो करते हुए। पानीपत, 7 दिसम्बर। झण्डा दिवस जहां हमें अपने ज्ञात-अज्ञात अमर शहीदों एवं वीर सैनिकों की याद दिलाता है वहीं हमे सैनिकों के प्रति सद्भावना, सम्मान व सैनिकों के प्रति नागरिकों को अपने कर्तव्यों की याद भी दिलाता है। इसलिए नागरिकों को, अधिकारियों और कर्मचारियों को सैनिकों, वीरांगनाओं आदि के कल्याण लिए अधिक से अधिक दान देना चाहिए, ताकि देश के सैनिकों का हौंसला बुलंद रहे। 
यह आह्वान अतिरिक्त उपायुक्त राजीव मेहता ने अपने कार्यालय में झण्डा दिवस पर बैज लगवाने के बाद किया। उन्होंने कहा कि आज का दिन भारतीय सशस्त्र सेना में झण्डा दिवस के रूप में मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि यह देश उन अमर शहीदों और वीर सैनिकों का हमेशा ऋणी रहेगा-जिन्होंने देश को आजाद करवाने और देश की एकता और अखण्डता को कायम रखने में अपने प्राण न्यौछावर कर दिए। 
राजीव मेहता ने कहा कि यही नहीं, आज भी हमारे वीर सैनिक प्रतिकूल परिस्थितियों में भी देश की सीमाओं की रक्षा करने में 24 घण्टें तत्पर रहते हैं। उन्होंने कहा कि  हमारी सेना अनुशासन का आईना हैं। इसलिए लोगों को इनसे प्रेरणा लेनी चाहिए। उन्होंने नागरिकों से अनुरोध किया कि उनको वीर सैनिकों  और स्वतंत्रता सेनानियों की भांति देश की एकता, अखण्डता, खुशहाली व अमन के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए।  अतिरिक्त उपायुक्त राजीव मेहता ने जिला सैनिक बोर्ड को झंडा दिवस के मौके पर अंशदान भी किया। इस मौके पर जिला सैनिक बोर्ड के कल्याण व्यवस्थापक जगदीश ने बताया कि यह धनराशि सैनिकों के कल्याणार्थ खर्च की जाती है। इस मौके पर सैनिक बोर्ड के मुख्य लिपिक मुख्तयार सिंह यादव इत्यादि भी मौजुद थे।