# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
नुक्कड़ से टीबी बचाव को किया जागरूक

जींद | प्राथमिकस्वास्थ्य केंद्र दरियावाला की टीम ने मंगलवार को दूसरे दिन गांव जाजवान में घर-घर जाकर टीबी के मरीजों की पहचान की। स्वास्थ्यकर्मियों आशा वर्करों ने नुक्कड़ सभाएं कर टीबी के कारण, लक्षण बचाव बारे लोगों को जानकारी दी। बहुउद्देश्यीय स्वास्थ्य कार्यकर्ता सुशील शर्मा ने बताया कि जिले में चार से 18 दिसंबर तक टीबी एक्टिव केस फाइंडिंग चलाया जा रहा है, जिसमें घर-घर जाकर संभावित मरीजों की पहचान की जा रही है। उन्होंने बताया कि टीबी होने के लक्षण दो सप्ताह से ज्यादा खांसी, बुखार, छाती में दर्द, भूख लगना, बलगम में खून आना, लगातार वजन कम होना होता है। अगर यह लक्षण पाए जाते हैं तो तुरंत अपने बलगम की जांच करवानी चाहिए। मौके पर एएनएम इशवंती, राजकुमारी, बिमला, कमलेश आशा वर्कर मौजूद रही।