News Description
550 एएनएम कर्मचारी दो दिन की सांकेतिक हड़ताल पर

नूंह : सरकार से अपनी मांगों को पूरी कराने के लिए एएनएम कर्मचारियों ने दो दिन की सांकेतिक हड़ताल शुरू कर दी है। यह हड़ताल यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष रिहान रजा की अगुवाई में शुरू की गई। कर्मचारियों की मांग है कि एएनएम कर्मचारियों को पक्का किया जाए। जब तक उन्हें पक्का नहीं कर दिया जाता तब तक नियमित कर्मचारियों की तरह सभी सुविधा दी जाएं।

यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष रिहान रजा ने बताया कि 5 और 6 दिसंबर को पूरे हरियाणा में एएनएम के करीब 12 हजार कर्मचारी दो दिन की हड़ताल पर रहेंगे। उनका कहना है कि एएनएम के जिला में करीब 550 कर्मचारी कार्यरत हैं। नूंह का अधिकतर स्वास्थ्य विभाग इन्हीं कर्मचारियों के सहारे चल रहा है। सरकार चाहे तो इस हड़ताल को टाल सकती है। लेकिन ये सरकार केवल वादा करती है, अपने वादों पर अमल नहीं करती। उनका कहना है कि सीएम उनकी मांगों को मान चुके हैं, लेकिन अधिकारी उन पर अमल नहीं कर रहे हैं। उन्होंने अधिकारियों पर आरोप लगाया कि वे सीएम की बात को भी नहीं मान रहे हैं। राज्य अध्यक्ष रिहान रजा ने कहा कि पिछले एक वर्ष में संघ ने अधिकारियों तथा स्वयं मुख्यमंत्री से लगभग 8 वार्ताएं की हैं और उन वार्ताओं में मुख्यमंत्री ने सहयोगात्मक भूमिका ही निभाई है। परंतु अधिकारियों ने उनके द्वारा दिए गए आदेशों की न केवल अवहेलना की बल्कि सच कहें तो आज की इस हड़ताल में आग में घी का काम ये अधिकारी ही कर रहे हैं।

उनका कहना है कि अधिकारी चाहते तो समय रहते मुख्यमंत्री के आदेशों को लागू कर इस हड़ताल को टाल सकते थे, एक तरफ तो ये अधिकारी सरकार को गुमराह कर रहे हैं दूसरे बार-बार वार्ता के लिए बुलाकर कर्मचारियों को प्रताड़ित कर रहे हैं।