News Description
निगम कमिश्नर ने प्रधान सचिव को पत्र लिख मांगा मार्गदर्शन

पंचकूला : नगर निगम की मेयर उेपंद्र कौर आहलूवालिया की ओर से कमिश्नर राजेश जोगपाल को नगर निगम की स्पेशल मीटिंग बुलाने के लिए लिखी गई चिट्ठी के बाद कमिश्नर ने स्थानीय शहरी निकाय विभाग के प्रधान सचिव से 21 जून 2017 को हुई मीटिंग पर राय मागी है।

साथ ही अगली मीटिंग बुलाने के लिए के लिए दिशा निर्देश देने को कहा है। राजेश जोगपाल द्वारा लिखी गई चिट्ठी में लिखा गया है कि 28 अगस्त 2017 को मेयर और कुछ पार्षदों द्वारा 21 जून को की गई मीटिंग के बारे में स्थिति स्पष्ट करने को कहा था, लेकिन अभी तक स्थिति स्पष्ट नहीं हुई है, क्योंकि इसमें नगर निगम का कोई भी अधिकारी उपस्थित नहीं था। हरियाणा म्यूनिसिपल कारपोरेशन एक्ट 1994 के सेक्शन 60 के तहत नगर निगम की बैठक में कमिश्नर या फिर नगर निगम का कोई अधिकृत अधिकारी होना जरूरी है, जिसमें वह प्रोसिडिंग लिखता है, परंतु इस बैठक में कोई भी अधिकारी मौजूद नहीं था।

सेक्शन 63 के तहत मीटिंग में उपस्थित सदस्यों की उपस्थिति दर्ज करने और प्रोसिडिंग कारपोरेशन सचिव द्वारा बुक में लिखे जाते हैं, परंतु इस बैठक में ऐसी किसी भी औपचारिकता को पूरा नहीं किया गया था, ऐसी स्थिति में इस बैठक के बारे में प्रधान सचिव से कमिश्नर ने आगामी कार्यवाही जल्द स्पष्ट करने के लिए कहा है। पत्र में कमिश्नर ने बताया है कि मेयर की ओर से उन्हें एक नोटिस देकर विशेष बैठक 48 घंटे में बुलाने के लिए कहा गया है