News Description
गो रक्षा यज्ञ यात्रा पहुंची दादरी, 10 सूत्रीय मांगों का दिया ज्ञापन

चरखी दादरी : गोवंश संरक्षण एवं संवर्धन के प्रति जन जागृति उत्पन्न करने के उद्देश्य से मंगलवार को हरियाणा राज्य गोशाला संघ द्वारा निकाली गई गोरक्षा जन जागरण रथ यात्रा ने जिला दादरी में प्रवेश किया। स्वामी रामभगत, स्वामी ब्रह्मानंद के सानिध्य में गोशाला संघ के प्रदेश अध्यक्ष शमशेर आर्य भी यात्रा में शामिल थे। यात्रा प्रात : गांव इमलोटा में पहुंची जहां गोरक्षा यज्ञ का आयोजन किया गया। इसके पश्चात यात्रा का दादर नगर की नई सब्जी मंडी के समीप श्री कृष्ण गोशाला में भव्य स्वागत किया गया तथा यहां भी यज्ञ में श्रद्धालुओं ने आहुतियां अर्पित की। इस अवसर पर स्थानीय गो सेवकों द्वारा स्थानीय उपायुक्त के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन में कहा गया है कि क्रास बीड पशु देशी गायों के लिए खतरा बन चुके है। इसलिए क्रास बीड पशुओं के सीमन पर तुरंत प्रभाव से रोक लगाई जाए। गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित किया जाए, गो मांस के किसी भी रूप में सेवन, आयात, निर्यात बिक्री पर तत्काल प्रतिबंध लगाया जाए। हरियाणा गो सेवा आयोग की कार्यकारिणी का गठन किया जाए व गोशालाओं को बंद हो चुकी ग्रांट बहाल की जाए। हरियाणा नस्ल, साहीवाल नस्ल की गायों के दुग्ध उत्पादन को बढ़ावा दिया जाए, जिला स्तर पर नस्ल सुधार केन्द्र स्थापित हो, देशी गोवंश के दूध, दही, घी सहित पंचगव्य उत्पादों की खरीद, बिक्री केन्द्र ब्लाक स्तर पर खोलें जाएं, सड़कों पर घूम रहे आवारा सांडो के लिए अभ्यारण बनाए जाए। गो सेवकों पर बनाए गए फर्जी मुकदमें वापिस लिए जाए तथा फर्जी गो रक्षकों पर नकेल कसी जाए। इस अवसर पर आचार्य विजयपाल, स्वामी ब्रह्मानंद, रामकुमार, ऋषिपाल, महाबीर शास्त्री, पितांबर स्वरूप स्वामी, वेदपाल परमार, संदीप फौगाट,ओमप्रकाश, रामभगत, वेदपाल, संजय फौगाट, अशोक, दलबीर इत्यादि मौजूद थे।