News Description
स्वामी ज्ञानानंद को भूमि देकर सीएम अपने लिए तैयार कर रहे डेरा : रणबीर ¨सह

कुरुक्षेत्र :

स्वामी ज्ञानानंद के गीता ज्ञान संस्थान को नौ एकड़ भूमि दिए जाने के मामले में सरकार को घेरते हुए पूर्व आइजी व लोक स्वराज पार्टी के अध्यक्ष रणबीर शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल अपने लिए डेरा बना रहे हैं, क्योंकि अगले चुनाव में हार के बाद वे यहीं रहेंगे।

उन्होंने स्वामी ज्ञानानंद पर भी हमला बोलते हुए कहा कि साधु संतों की जगह कुटिया में होती है आलीशान महलों में नहीं। गीता जयंती के आयोजन में भी उन्होंने करोड़ों रुपये के घपले का आरोप लगाते हुए सीबीआइ से जांच कराने की मांग की है। वे सोमवार को एक निजी होटल में पत्रकारों से बात कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि सरकार स्वामी ज्ञानानंद पर इतनी मेहरबान है कि 135 करोड़ की भूमि सिर्फ 45 लाख रुपये में दे दी। गीता जयंती को बड़ा रूप देने और करोड़ों रुपये खर्च करने पर भी सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि एक तरफ प्रदेश कर्जे में डूब रहा है दूसरी तरफ बड़े-बड़े आयोजनों पर जनता का पैसा लुटाया जा रहा है।

सरकार का सिस्टम बेकार

उन्होंने कहा कि सरकार का जो सिस्टम है उसमें किसी का भी भला नहीं होने वाला है। शिक्षा, चिकित्सा, पेयजल, बिजली व सड़कों का बुरा हाल है। भाजपा सरकार में आम लोगों की बात बिल्कुल नहीं की जाती। उन्होंने कहा कि इस सरकार में नेता और बाबा दोनों ही बहती गंगा में हाथ धो रहे हैं। सरकार नहीं चला सकते तो मुख्यमंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए।

अब चुप क्यों हैं सांसद सैनी

उन्होंने भाजपा सांसद राजकुमार सैनी पर भी हमला बोलते हुए कहा कि गीता जयंती के नाम पर हो रहे करोड़ों रुपये के घपले को लेकर क्यों चुप हैं। अब अपनी सरकार से क्यों नही पूछ रहे कि यह क्या हो रहा है। गरीबों का पैसा बड़े-बड़े आयोजनों पर क्यों बहाया जा रहा है। शर्मा के साथ पत्रकार वार्ता में यशपाल शर्मा भी मौजूद थे।