News Description
बाजार में बिकने वाले पेय पदार्थ सेहत को खराब भी कर सकते है : लक्ष्यवीर

सिरसा : कृषि विज्ञान केंद्र में स्वरोजगार अपनाने के लिए युवाओं को व्यवसायिक प्रशिक्षण दिया गया। जिसके तहत महिलाओं को फल एवं सब्जी प्रशिक्षण में आचार, मुरब्बा, जैम, जैली व शरबत बनाने, पुरुषों को खुंबी व मधुमक्खी का पालन प्रशिक्षण दिया गया।

केंद्र के जिला संयोजक डा. लक्ष्यवीर बैनीवाल ने महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि आचार, मुरब्बा व शरबत घर पर ही तैयार करें। क्योंकि बाजार में बिकने वाले पेय पदार्थ सेहत को खराब ही करते हैं। बाजारों में पेय पदार्थ ¨सथेटिक से तैयार किए जाते हैं। उनमें खुशबू डाल दी जाती है। उन्होंने कहा कि ये बात तो खैर सभी जानते हैं कि अगर खाने के साथ अचार हो तो खाने का मजा दोगुना हो जाता है। अचार खाने के साथ खाई जाने वाली एक चीज है जो किसी भी मौसम में खाई जा सकती है। पर अगर बाजार के अचार खा खाकर आप थोड़ा परेशान हो गए हैं तो इसके लिए आपको घर पर ही अचार बनाना होगा। जो काफी अच्छा भी होगा और पैसों की भी बचत होगी।

सहायिका कमला देवी ने कहा आचार बनाते समय साफ सफाई की तरफ विशेष ध्यान रखे। अगर जिसमें आचार डालते है वह साफ नहीं होगा तो आचार जल्दी खराब हो जाएगा