News Description
हाईटेक होगा तहसील का ई दिशा केंद्र

समालखा: तहसील कार्यालयों में खुले ई दिशा केंद्र को और हाईटेक बनाया जा रहा है। इसे सरल इनोवेशन ई दिशा का नाम दिया है। हर काम खिड़की से आनलाइन काम होगा औ लोगों के बैठने के लिए वेटिंग रूम की सुविधा मिलेगी। स्थानीय तहसील के लिए भी 1 करोड़ 20 लाख का एस्टीमेट बनाकर सरकार को भेजा गया है।

सरकार ने भ्रष्टाचार के खात्मे व कामकाज में पारदर्शिता लाने के लिए हर काम को ऑनलाइन (डिजिटल) करने के लिए का बीड़ा उठाया हुआ है। इसी कड़ी में तहसील व एसडीएम कार्यालय में रजिस्टरी कराने से लेकर लाइसेंस व आरसी बनाने तक के काम को ऑनलाइन किया जा चुका है। दूसरी और जनता को सहूलियत हो, इस मकसद से ई दिशा केंद्र खोल दिए गए। अब तहसील व एसडीएम कार्यालय में खुले ई दिशा केंद्र को सरकार हाईटेक करने जा रही है, ताकि एक ही छत के नीचे लोगों के बिना किसी परेशानी से आसानी से काम हो सके और भ्रष्टाचार का शिकार न हो।

एसडीएम गौरव कुमार ने बताया कि लघु सचिवालय परिसर में कोर्ट के सामने वाली गैलरी में सरल इनोवेशन ई दिशा केंद्र बनाया जाएगा। इसके लिए 1 करोड़ 20 लाख रुपये के आस पास का प्रपोजल बना सरकार को भेजा है। केंद्र का मकसद लोगों को एक ही छत के नीचे बिना किसी परेशानी के सुविधा प्रदान कराना है।

एसडीएम ने बताया कि केंद्र में हर काम को लेकर अलग अलग केबिन बनाकर खिड़की खोली जाएंगी। इस पर उसमें होने वाले काम के अलावा लगने वाली फीस से संबंधित ब्यौरा लिखा होगा। काम को लेकर आने वाले लोगों को अपनी बारी के इंतजार के दौरान इधर उधर न भटकना पड़े, इसको लेकर अलग से एक वेटिंग रूम भी बनवाया जाएगा, जहां पर एक स्क्रीन भी लगाई जाएगी। जिसमें कामकाज को लेकर जानकारी आती रहेंगी।