# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
60 लाख से होगा खांसर चौक का जीर्णोद्धार

कस्बेके खांसर चौक की अब जल्द ही कायाकल्प होने वाली है। इस वक्त जर्जरता से जूझते इस चौक को आलीशान बनाया जाएगा। इस चौक पर निकासी की पूरी व्यवस्था करने के साथ साथ डस्ट मुक्त और सीसी मार्ग बनाने की योजना है। इसके लिए पालिका प्रशासन ने बीएंडआर विभाग से एनओसी ले ली गई है। करीब आधा किलोमीटर लंबे जर्जर इस मार्ग पर करीब 60 लाख रुपए खर्च करने की योजना बनाई गई है। खांसर चौक पानीपत करनाल जिला से आने वाले लोगों के लिए शहर का पहला चौक है। इसलिए इस चौक की महत्ता और बढ़ जाती है। शहर को और दार्शनिक बनाने के लिए इस चौक का कायाकल्प होना अनिवार्य समझा जाता है। इसको देखते हुए सफीदों नगरपालिका ने खांसर चौक का विस्तारीकरण करने की योजना बनाई है। 

{गहरेगड्ढों को पार करना मुश्किल : खांसरचौक पर दुकानदार वीरेंद्र खर्ब, सुरेश कुमार, प्रदीप, नितिन पाहवा, रामबीर आदि ने कहा कि इस चौक को बार बार बनाया जाता रहा है, लेकिन इसकी दुर्दशा कभी खत्म नहीं हुई है। यह बनने के कुछ दिनों बाद ही टूट जाता रहा है। उन्होंने कहा कि बारिश के दिनों में यहां पानी भरा रहता है, जिससे कोई भी सड़क लंबे समय तक नहीं टिकती है। इसलिए यहां पहले पानी की निकासी के नाला बनाया जाए, ताकि चौक पर पानी का ठहराव हो सके। उन्होंने कहा कि हर बार पालिका प्रशासन द्वारा इस चौक को ठीक करने की बात कही जाती रही है, लेकिन धरातल पर कुछ नहीं किया जाता है। उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर अधिकारियों से कई बार मिल चुके है, लेकिन समस्या ज्यों की त्यों बरकरार है। 

अधिकारियों की कार्यशैली पर लगता है प्रश्नचिह्न 

^खांसरचौक शहर का आइने के रूप में देखा जा सकता है। शहर का प्रवेश द्वार ही जर्जर होगा, तो आने वाले लोगों के मन में शहर की पालिका अधिकारियों की कार्यशैली पर प्रश्नचिह्न लगाया जाता है। इसलिए खांसर चौक का सुधार करना जरूरी है। पालिका द्वारा ना सिर्फ खांसर चौक को बेहतर तरीके से बनाया जाना चाहिए, बल्कि इस चौक का सौंदर्यीकरण भी करना चाहिए। -कुलदीपसैनी, शहरवासी। 

^सड़क को चौड़ा करवाएं प्रशासन कई बार इस चौंक को ओर चौड़ा करने की मांग उठ चुकी है, लेकिन ना तो इसके प्रति प्रशासन गंभीर है और ना ही सरकार ने अब तक कोई कदम उठाया है। जिससे खांसर चौक की दशा आज भी ज्यों की त्यों बनी हुई है। खांसर चौक पानीपत मार्ग के दोनों ओर पड़ी खाली जगह पर भी ईंट ब्लॉक लगवाए जाएं, ताकि चौक को डस्ट मुक्त किया जा सके। -अशोकवर्मा शहरवासी