# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
पाइप लाइन टूटने से 151 गांवों की पेयजल आपूर्ति बाधित

हथीन : 425 करोड़ की लागत बनी राजीव गांधी रेनीवेल परियोजना की मुख्य पाइप लाइन पलवल के बड़ौली गांव में टूटने से हथीन उपमंडल व नूंह जिले के 151 गांवों की सप्लाई बाधित हो गई है। इनमें हथीन के 60 तथा नूंह जिले के 91 गांव शामिल है। पेयजल आपूर्ति बाधित होने के कारण संबंधित गांवों में पीने के पानी की समस्या बन गई है। लाइन टूटने का कारण ओवरलोड वाहनों का गुजरना बताया गया है। जन स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी लाइन को ठीक करने में जुटे हैं।

यमुना तट पर बसे गांव रहीमपुर में राजीव गांधी रेनीवेल परियोजना के तहत बड़े-बड़े ट्यूबवेल लगाकर पाइप लाइनों के माध्यम से हथीन व नूंह एरिया के गांवों को पेयजल सप्लाई से जोड़ा हुआ है। बताया गया है कि प्रतिदिन यहां से 3 करोड 60 लाख लीटर पानी की सप्लाई होती है। यह लाइन गांव कोंडल स्थित 60 लाख लीटर के क्षमता वाले बूस्टर में पानी स्टोर करती है। कोंडल मुख्य बूस्टर के 4 इंटर बूस्टर सहित करीब 12 बूस्टरों में पानी आपूर्ति की जाती है। इन बुस्टरों से गांवों की लाइनों को जोड़ा हुआ है। बृहस्पतिवार दोपहर को बड़ौली गांव के समीप से मुख्य पाइप लाइन टूट गई। यह लाइन कई दिनों से लीकेज थी।