News Description
खेल महाकुंभ के विजेता खिलाड़ियों पैसा बांटना बना आफत, 40 फीसद खिलाड़ियों के नहीं है अकाउंट नंबर

महाकुंभ के अंर्तगत राज्य स्तरीय और जिला स्तरीय प्रतियोगिताएं करवाई गई थी। जिला स्तर पर 4210 खिलाड़ी विजेता घोषित हुए थे। इससे आधी संख्या राज्य स्तर पर जीतने वाले खिलाड़ियों की है। खेल विभाग को विजेता खिलाड़ियों के बैंक खाते में ही पैसा जमा करवाना है। 54 लाख रुपये की राशि खेल विभाग के खाते में आ चुकी है। मगर, 60 फीसद खिलाड़ियों ने ही अपने बैंक अकाउंट नंबर जमा करवाए है। वहीं 40 फीसद खिलाड़ियों की बैंक खाता संख्या जमा होना बाकी है। जबकि खिलाड़ियों के बैंक खाता नंबर जमा करवाने की आखिरी तारीख 5 दिसंबर निर्धारित की गई है। ऐसे में खेल विभाग के अधिकारियों को समझ नहीं आ रहा है कि सभी खिलाड़ियों को बैंक खातों में कैसे पैसा जमा हो पाएगा।

खेल विभाग के अधिकारियों को सबसे ज्यादा ¨चता राज्य स्तरीय खिलाड़ियों के पैसों की सता रही है। क्योंकि उच्चाधिकारियों ने उनकी लिस्ट अभी तक खेल अधिकारियों के पास नहीं भेजी है। ऐसे में अधिकारी उन खिलाड़ियों से संपर्क नहीं साध पा रहे हैं। जबकि जिला स्तर पर विजेता खिलाड़ियों को मोबाइल मैसेज और फोन किए जा रहे है। खेल विभाग से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार जिला स्तरीय प्रतियोगिता के लिए 12 हजार 500 खिलाड़ियों ने अपना रजिस्ट्रेशन करवाया था। इसमें से 10 हजार 300 खिलाड़ियों ने भाग लिया था। विभाग की रिपोर्ट के अनुसार जिला स्तरीय प्रतियोगिता में 1355 खिलाड़ियों ने गोल्ड, 1355 खिलाड़ियों ने सिल्वर व 1500 खिलाड़ियों ने कांस्य पदक जीता था। वहीं राज्य स्तरीय में विजेता रहे खिलाड़ियों की सूची अभी तक खेल विभाग के पास नहीं पहुंची है।

.............

खिलाड़ियों के खाता नंबर को आधार कार्ड से किया ¨लक

खेल विभाग की ओर से खिलाड़ियों के खाता नंबर को आधार कार्ड से ¨लक किया जा चुका है। ऐसे में खिलाड़ियों के खाते में ही राशि आती है। खेल विभाग की ओर से खिलाड़ियों को कैश राशि देने का सिस्टम खत्म किया जा चुका है। खेल विभाग के अधिकारियों का कहना है कि अभी तक जिन खिलाड़ियों ने अपना खाता नंबर जमा नहीं करवाया है, वह 5 दिसंबर तक हर हाल में जमा करवा दे, तभी खिलाड़ी कैश राशि ले पाएंगे। खिलाड़ियों को खाता नंबर और आधार नंबर जमा करवाना है।

...........

26 सितंबर से 3 अक्टूबर तक हुई थी प्रतियोगिता

26 सितंबर से 3 अक्टूबर तक जिला स्तरीय प्रतियोगिता आयोजित की गई थी। इसमें कुल 22 गेम शामिल थे। वहीं हर जिले में 5 अक्टूबर से 26 अक्टूबर तक राज्य स्तरीय प्रतियोगिता आयोजित हुई थी। जिसमें हिसार में बास्केटबॉल प्रतियोगिता करवाई गई थी।

.