News Description
पॉल्यूशन बढ़ा, पीएम 2.5 का लेवल 360 पहुंचा हाईवे पर विजिबिलिटी हुई कम

गुड़गांव।पिछले दो दिन से शहर में पॉल्यूशन के स्तर में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। गुरुवार को पीएम 2.5 का अधिकतम स्तर बढ़कर 321 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर दर्ज किया गया था। वहीं शनिवार को पीएम 2.5 का अधिकतम लेवल 360 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर दर्ज किया गया, जबकि न्यूनतम 198 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर रहा।

हाईवे पर विजिबिलिटी 450 मीटर

- वहीं सुबह के समय स्मॉग बढ़ने से हाईवे पर विजिबिलिटी 450 मीटर तक रही। शनिवार दोपहर तक शहर में स्मॉग की चादर छाई रही। प्रधान चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रदीप शर्मा ने बताया कि पीएम 2.5 का स्तर 50 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर रहना चाहिए। लेकिन फिलहाल छह से सात गुना अधिक पॉल्यूशन बढ़ गया है। ऐसे में सुबह के समय लोगों को सैर से बचना चाहिए। 
- गुड़गांव में पांच नवंबर से 15 नवंबर तक पीएम 2.5 का अधिकतम स्तर बढ़कर 420 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर तक पहुंच गया था। लेकिन 17 अक्टूबर को अचानक हुई बूंदाबादी और तेज हवा के कारण काफी राहत मिली थी।

- हालांकि सामान्य से अधिक रहा, लेकिन इसके बाद पीएम 2.5 का स्तर घटकर 200 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर तक हो गया था। लेकिन अब एक बार फिर हवा की स्पीड कम होने से पीएम 2.5 का स्तर बढ़ गया। डॉक्टरों के अनुसार, घर से निकलना भी हो तो फिल्टर वाला एन-95 मास्क लगाकर ही निकलें।

हवा चलने से मिलेगी राहत, पर आसार कम
- क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रक ने बताया कि रविवार से पॉल्यूशन के स्तर में और बढ़ोतरी होगी। इसके बाद हवा चलने से राहत मिलेगी। उन्होंने बताया कि सभी हॉट मिक्स प्लांट बंद करने के आदेश दिए गए हैं। वहीं जगह-जगह पानी छिड़काव के आदेश भी दिए गए हैं। साथ ही पॉल्यूशन के स्तर पर ऑब्जरवेशन की जा रही है।