# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
किसानों ने दिया पशुओं को रोकने का ठेका

गेहूंकी फसल को बेसहारा पशुओं से बचाने के लिए क्षेत्र के गांवों में किसानों ने पहरा लगवाना शुरु कर दिया है। किसानों ने पशुओं को रोकने का ठेका देते हुए शहर से निकालने वाले विभिन्न मार्गों पर चौकीदारों की नियुक्ति कर दी है। ठेकेदार के कर्मचारी सड़कों पर दिन-रात आवारा पशुओ को खेतों में जाने से रोकेंगे। इसके लिए शहर से बाहर नाके लगाए गए है। शहर के लाली रोड, सरदूलगढ़ रोड, टोहाना रोड, बुढलाडा रोड फतेहाबाद रोड पर नाके लगाए है। दो साल पहले करीब सवा करोड़ रुपये में ठेका दिया गया था। अब गेहूं का सीजन शुरू होते ही शहर में सड़कों पर पशुओं की संख्या बढ़ने लगी है। रात को ये पशु खेतों की तरफ रूख करते है। 

किसान गुरप्रीत सिंह, शेर सिंह, रूप सिंह, पप्पी सिंह, बलजिंद्र सिंह आदि ने कहा कि शहर में घूमने वाले आवारा पशु खेतों की ओर रुख कर लेते है। वे खेतों में घुसकर गेहूं अन्य फसलों को नुकसान पहुंचाते हैं। सबसे ज्यादा परेशानी शहर के साथ लगते भरपूर, रत्ताखेड़ा, लाली, रतनगढ़, कमाना, नथवान, खोखर ढाणी, जाखन दादी, हमजापुर, शहनाल, सुखमनपुर गांवों के किसानों को उठानी पड़ती है। बुढलाडा रोड के ठेकेदार कृष्ण कुमार का कहना है कि पशुओं को खेतों मे जाने से रोकने का ठेका लिया है। इसके लिए झोपडिय़ां बनाकर वहां चौकीदार नियुक्त किया है। जो अलग-अलग शिफ्टों में काम करेंगे। उन्हें मेहनताना के तौर पर किसान प्रति एकड़ के हिसाब से 5 किलोग्राम गेहूं देंगे। इसी प्रकार लाली रोड का करतार सिंह ने ठेका लिया है। उसका कहना है कि अभी मेहनताना तय करना है। 

पुराना बाजार में सांडों ने मचाया उत्पात 

रतिया| पुराना बस स्टैंड में शनिवार रात आधा दर्जन सांडों ने उत्पात मचाया। दुकानदारों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलने पर शहर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस आसपास के लोगों ने उत्पात मचा रहे सांडों को वहां से भगाया। घटना की आशंका के चलते दुकानदारों ने अपनी दुकानों के शट्टर गिरा दिए। पिछले कुछ दिनों से शहर में आवारा पशुओं की संख्या फिर से बढ़ रही है। आधा दर्जन सांड पुराना बस स्टैंड में घुस गए और एक-दूसरे से भिड़ने लग गए। दुकानदारों ने सांडों पर पानी डालकर उन्हें दूर भगाने का प्रयास किया। बाद में लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी।