News Description
हुडा का नोटिस मिलने पर सेक्टर-46 निवासी लामबंद

फरीदाबाद : हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (हुडा) ने सेक्टर-46 में रहने वाले लोगों को नोटिस जारी कर 1880 रुपये प्रति गज के हिसाब से और राशि का भुगतान करने को कहा है। नोटिस पिछले दो-तीन दिन से बंटने शुरू हुए हैं। नोटिस मिलने से स्थानीय निवासी ¨चतित हैं और इसके विरोध में लामबंद होना शुरू हो गए हैं।

रविवार को रेजीडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन सेक्टर-46 के तत्वावधान में प्रधान राज¨सह बैंसला की अध्यक्षता में आरडब्ल्यूए कार्यालय पर बैठक हुई। बैठक में नोटिस पर चर्चा हुई और हुडा की कार्रवाई का पुरजोर विरोध किया गया। प्रधान राज ¨सह बैंसला ने बताया कि सेक्टर-46 बसाने के लिए किसानों से भूमि का अधिग्रहण 1989 के आसपास किया गया था। किसानों को इसके बदले अनुमानित 250-300 रुपये प्रति वर्ग के हिसाब से भुगतान किया गया। किसानों को दो बार 1991 और 2005 में हुडा ने मुआवजा दिया। किसान मुआवजा की रकम बढ़ाए जाने की मांग को लेकर कोर्ट में भी गए थे, जहां हुडा केस हार गया था। अगर हुडा को प्लाट धारकों से कुछ और रकम लेनी ही थी, तो वर्ष 2005 में ही ले लेते, जो उस समय 300 रुपये प्रति वर्ग गज के हिसाब से बनती थी। यह रकम पूरे सेक्टर की तब तीन-चार करोड़ के बीच बनती। अब हुडा ने 70 करोड़ रुपये की रकम बना रखी है और 1880 रुपये प्रति वर्ग गज भुगतान के नोटिस जारी किए हैं, यह सरासर स्थानीय लोगों को प्रताड़ित करने जैसा है। इतनी रकम लोग कहां से लाएंगे और क्यों भरें।