News Description
ब्लू इंडिया ने ग्रीन इंडिया को हराकर जीती ट्राफी

भिवानी   भीमस्टेडियम में फिजिकल चैलेंज्ड क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ इंडिया (पीसीसीएआई) के बैनर तलेे पिंक बॉल दिव्यांग ट्रॉफी चैम्पियनशिप का रविवार को समापन किया गया। फाइनल मुकाबले का शुभारंभ चीफ पैटर्न धर्मेश शाह ने टॉस करके किया। 30 नवंबर से तीन दिसंबर तक जारी इस चैम्पियनशिप में देश भर से 51 खिलाड़ियों ने भाग लिया है। 

फिजिकल चैलेंज्ड क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित प्रथम पिंक बॉल दिव्यांग चैम्पियनशिप की विजेता ब्लू इंडिया टीम रही। इस टीम ने ग्रीन इंडिया को हराकर ट्रॉफी पर कब्जा किया। टॉस जीतकर पहले ग्रीन इंडिया ने बल्लेबाजी का फैसला लेते हुए 126 रनों का स्कोर खड़ा किया। ग्रीन इंडिया में पारी खेलते हुए अनिल ने 35 रन बनाए तो सचिव ने 21 हजार रन बनाए। वहीं जवाब में पारी खेलते हुए ब्लू इंडिया टीम के खिलाड़ी रवि पाटिल ने 28 बाल में 46 रन बनाएं, सचिन ने 15 बाल में 26 रन, अमित ने 25 बाल में 43 रन बनाए, जो नाबाद रहे और मनीष कुमार ने 26 रन बनाकर नाबाद रहे। ब्लू इंडिया ने लाजवाब पारी खेलते हुए सीरीज को 8 विकेटों से जीत लिया। यहां पर फाइनल मुकाबले में बेस्ट बालर का मनीष कुमार को मिला। 

बेस्ट फिल्डर का खिताब राजेश कुमार को मिला तो वहीं बेस्ट बेट्समैन का खिताब सचिन शिवा के नाम रहा। इन सभी खिलाड़ियों को नकद पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर खिलाड़ियों को पूर्व रणजी खिलाड़ी संजय भाटिया ने 3100-3100 रुपये के नकद पुरस्कार से सम्मानित किया। चैम्पियन में प्रथम, द्वितीय तृतीय आने वाली तीनों टीमों को पूर्व रणजी खिलाड़ी संजय भाटिया ने 15-15 हजार रुपये का नकद पुरस्कार दिया। इस दौरान चार दिवसीय चैम्पियनशिप में अपनी सेवाएं दे रहे एम्पायर, स्कोरर, कमेंटेटर सहित अन्य दिव्यांग खिलाड़ियों को पीसीसीएआई द्वारा सम्मानित भी किया गया। 

इस दौरान मुख्यातिथि खेल निदेशक जगदीप सिंह आईएएस और उप निदेशक छाजूराम गोयत ने कहा कि पीसीसीएआई का दिव्यांग खिलाड़ियों को आगे लाने का यह एक अच्छा प्रयास है। उन्होंने कहा कि खेल विभाग दिव्यांग खिलाड़ियों को हर मंच पर सम्मान देगा। उन्होंने बताया कि पीसीसीएआई को मान्यता देने के लिए वे सरकार के समक्ष बात रखेंगे। उन्होंने बताया कि दिव्यांग खिलाड़ियों को भी सरकार छह करोड़ तक का इनाम दे रही है, जिस प्रकार की प्रतिभा होगी उसी प्रकार का सम्मान खिलाड़ियों को खेल विभाग देगा। फाइनल मुकाबले में टॉस जीतते हुए ग्रीन इंडिया ने बल्लेबाजी का निर्णय लिया और फील्डिंग के लिए मुकाबले में ब्लू इंडिया की टीम रही। इस अवसर पर आयोजन में महंत चरणदास महाराज का सानिध्य रहा। वहीं दो ऑवर्स के मैच स्वर्गीय जेपी मलिक की याद में खेले गए। जो उनके प्रति सद्भावना समर्पित किया गया। 

इस अवसर पर एसोसिएशन अध्यक्ष सुरेंद्र लोहिया, रवि चौहान, डॉ. विनोद अंचल, समाजसेवी मुरारीलाल गुप्ता तोला, निदेशक छाजूराम गोयत, नंदकिशोर अग्रवाल, रविन्द्र भाटी, अमन मलिक, संजय गोयल, प्रदीप शर्मा, डीएसओ राजबीर सिंह, दर्शन लाल मिड्ढा, अजय मंडोरा, दीपक तोला, प्रो. संजय कुमार, बेद टुटेजा, राकेश नागपाल, रमेश सैनी, संजय भाटिया, गोवर्धन आचार्य, प्रवक्ता अशोक भारद्वाज आदि मौजूद रहे।