News Description
गीता उपदेश के साथ संपन्न हुई रासलीला

, कुरुक्षेत्र : श्रीब्रह्मपुरी अन्नक्षेत्र आश्रम ट्रस्ट के तत्वावधान में ब्रह्मसरोवर के प्रवेश द्वार पर आयोजित भव्य रासलीला में गीता उपदेश उपदेश के साथ संपन्न हुई। रासलीला के मंच पर महाभारत युद्ध के विभिन्न दृश्य एवं गीता उपदेश का मंचन हुआ। इस मौके पर आश्रम के ट्रस्टियों एवं श्रद्धालुओं ने कार्यक्रम का दीप प्रज्वलित किया। आश्रम के संचालक स्वामी चिरंजीपुरी महाराज ने सभी को आशीर्वाद स्वरूप भगवान श्रीकृष्ण की प्रतिमा और दोशाला भेंट किया। अन्य सभी सहयोगियों को भी स्मृति-चिह्न प्रदान किया गया। चिरंजीपुरी महाराज ने श्रद्धालुओं को ट्रस्ट द्वारा बनाए जा रहे 18 मंजिला गीता ज्ञान मंदिर की पूर्ण जानकारी दी। आश्रम के स्वामी चिरंजीपुरी महाराज ने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण की जन्मभूमि मथुरा है तो कुरुक्षेत्र भगवान श्रीकृष्ण की कर्मभूमि है। यहां भगवान कृष्ण ने गीता के माध्यम से अर्जुन को जीवन जीने और कर्तव्य निभाने का जो ज्ञान दिया था, वह विश्वभर के लोगों के लिए अनुकरणीय मिसाल बन गया है। इस मौके पर नेमचंद जैन, मित्रसेन गर्ग, सतीश मित्तल, सुभाष गुप्ता, मास्टर लच्छी राम, डॉ. पवन गोयल, रीता गोयल, अनमोल बंसल और कमला रानी शामिल रहे।