News Description
दीपदान और गीता पाठ के साथ गीता जयंती महोत्सव संपन्न

सफीदों | महाभारतकालीन पवित्र नागक्षेत्र मंदिर में गुरुवार देर सायं गीता जयंती महोत्सव संपन्न हो गया। समापन समारोह में मुख्यातिथि एचएसएससी सदस्य विजयपाल सिंह एडवोकेट विशिष्ट अतिथि के रूप में एसडीएम वीरेंद्र सांगवान ने शिरकत की। गुरुदेव मुनि महाराज हरिद्वार वाले के सानिध्य में हुए कार्यक्रम में उपस्थित सैकडों श्रद्धालुओं ने नागक्षेत्र सरोवर पर दीपदान किया। 

कार्यक्रम में आचार्य सतीश शास्त्री के सानिध्य में लोगों ने गीता जी के 18 अध्याय के श्लोकों का उच्चारण किया। विजयपाल एडवोकेट ने कहा कि ऐतिहासिक नगरी सफीदों कुरुक्षेत्र के 84 कोस भूमि में आती है। इस प्रकार के आयोजनों से लोगों की धर्म संस्कारों के प्रति आस्था बढ़ती है, जोकि आज के दौर में अत्यंत जरूरी हो गए हैं। उन्होंने कहा कि परिवर्तन इस संसार का नियम है। गीता जी ने इस संसार को कर्म करने की प्रेरणा दी है और हमें उसी के अनुरूप अपनी जीवन रूपी गाड़ी बढ़ाते रहना चाहिए। गीता भारतीय संस्कृति की आधारशिला है। 

इस मौके पर बीईओ डॉ. नरेश वर्मा, पालिका अध्यक्ष सेवाराम सैनी, पालिका उपाध्यक्ष रोशनलाल मित्तल, श्री कृष्ण कृपा परिवार के संरक्षक राजकुमार मित्तल, गौसेवा आयोग के सदस्य श्रवण गर्ग, विश्व हिंदू परिषद के अध्यक्ष अरविंद शर्मा, अध्यक्ष वेदप्रकाश नंदवानी, केंद्रीय समिति के महासचिव राधेश्याम थनई, सुभाष जैन, रवि थनई, रामेश्वरदास गुप्ता, नितिन पहेवा , योगेश दीवान, मंजू गौत्तम रुचि भारद्वाज आदि लोग मौजूद रहे।