News Description
पूरा शहर जाम की समस्या से निजात चाहता है तो ईओ को परेशानी क्यों: शहर थाना प्रभारी

 

शहर के बाजारों से अतिक्रमण हटाने के मुद्दे पर नगर परिषद के ईओ द्वारा बिना किसी सूचना के अभियान चलाने के लिये परिषद अधिकारियों को लगाई गई फटकार के बाद शहर थाना प्रभारी उदयभान ने ईओ जितेन्द्र ¨सह के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए मामले को गरमा दिया है। ईओ जितेन्द्र ¨सह ने गुरुवार को अभियान के दौरान कर्मचारियों को फटकार लगाते हुए पुलिस अधिकारियों के सामने ही कह दिया था कि बाजारों में अतिक्रमण हटाने के लिये किसके कहने पर वो पुलिस को लेकर पहुंचे है। ईओ द्वारा इस दौरान परिषद अधिकारियों को अभियान बंद करने के निर्देश भी दिये गये थे। ईओ के इस रवैये पर उखडे़ शहर थाना प्रभारी ने शुक्रवार सुबह पुलिस बल के साथ बाजारों में अभियान चलाकर अतिक्रमण हटाने शुरू कर दिये और इस दौरान पुलिस ने शहर के विभिन्न बाजारों में सड़कों पर रखे सामान को कब्जे में ले लिया। शहर थाना प्रभारी उदयभान ने कहा कि शहर की जनता और नगर परिषद के अन्य अधिकारी जाम की समस्या से निजात चाहते है तो इसमें ईओ जितेन्द्र ¨सह को क्या परेशानी है। थाना प्रभारी ने कहा कि ये जांच का विषय है और इसे गंभीरता से लेते हुए नगर परिषद के आला-अधिकारियों के संज्ञान में ये मामला लाकर ईओ की इस कार्यवाही के बारे में पूछा जाएगा।

पुलिस ने नगर परिषद के अधिकारियों की टीम के साथ उमरा गेट, छाबड़ा चौक, सब्जी मंडी रोड, प्रताप बाजार, सदर बाजार आदि में चलाये गये अभियान के दौरान दुकानदारों में हड़कंप मच गया और एक बार फिर टीम के पहुंचने पर दुकानदारों ने सड़कों पर रखे अपने सामान को दुकान के अंदर फेंकना शुरू कर दिया। शहर थाना प्रभारी उदयभान की अगुवाई में परिषद के सेनेटरी इंस्पेक्टर दीपक झांब, सुपरवाइजर सोनू चंदा आदि ने दुकानदारों को भविष्य में सड़कों पर सामान न रखने की चेतावनी देते हुए आगामी दिनों में कड़ी कार्यवाही करने के लिये आगाह किया। परिषद कर्मचारियों ने बाजारों में सड़कों पर रखे सामान को कब्जे में भी ले लिया। कब्जे में लिये गये सामान को आगामी कार्यवाही तक परिषद कार्यालय में उतरवाया गया है।

 

बाक्स:

अभियान को लेकर एसपी व एसडीएम को दे दी गई थी सूचना: चेयरमैन

नगर परिषद चेयरमैन निर्मला सैनी व ईओ जितेन्द्र ¨सह के बीच गुरुवार को अभियान के दौरान हुई तनातनी के बाद निर्मला सैनी द्वारा अभियान चलाने के जारी किये गये निर्देश का पत्र दिखाया है। निर्मला सैनी ने कहा कि बाजारों में ट्रैफिक जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिये एसपी, एसडीएम सहित ईओ व अधिकारियों को अभियान के बारे में सूचना देकर शहर थाना प्रभारी उदयभान से पुलिस का सहयोग मांगा गया था।

बाक्स:

ईओ के खिलाफ उच्चाधिकारियों को लिखकर मांगा जाएगा जवाब: एसएचओ

शहर थाना प्रभारी उदयभान ने ईओ जितेन्द्र ¨सह के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए कहा कि ईओ के खिलाफ उच्चाधिकारियों को लिखकर जवाब मांगा जाएगा। उन्होंने कहा कि ईओ जितेन्द्र ¨सह को शहर को ट्रैफिक जाम से मुक्त करने और अतिक्रमण हटाने के लिये क्या परेशानी है ये जांच का विषय है जबकि पूरा शहर व परिषद के अन्य अधिकारी ट्रैफिक जाम की समस्या से जनता को निजात दिलाना चाहते है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने अब इस समस्या को जड़ से खत्म करने के लिये कमान संभाल ली और दुकानों के अंदर रखने की आदत डालने तक पुलिस का अभियान निरंतर जारी रहेगा और नियमों का उल्लंघन करने वाले दुकानदारों के साथ कोई रियायत नहीं बरती जाएगी।