News Description
समलेहड़ी के युवक की मौत के मामले डीएसपी से मिले परिजन

अंबाला : गांव समलेहड़ी के लोग शुक्रवार को रेस्ट हाउस अंबाला छावनी में एकजुट हुए और डीएसपी सुरेश कौशिक को एक मांगपत्र भी सौंपा। परिजनों का आरोप है कि महेश नगर थाना पुलिस ने दबाव में आकर गलत कार्रवाई की है। इसीलिए उनकी मांग है कि मृतक आशीष के साथ मारपीट कर सड़क पर फेंकने वाले के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएं। गांव के लोग आदि अम्बेडकर आंदोलन सभा के प्रधान सोमनाथ बोह व वरिष्ठ उप प्रधान प्रधान डा. बलवीर ¨सह के नेतृत्व में एकजुट हुए। कौशिक को परिजनों ने बताया कि 24 नवंबर को आशीष गांव समलेहड़ी के अपने 3 साथियों के साथ लक्की फार्म हाऊस में शादी में वेटर का काम करने गया हुआ था। रात को करीब 1 बजे फोन उन्हें तो पुलिस के माध्यम से पता चला था कि आशीष का एक्सीडेंट हो गया है।

इसके अलावा आशीष छावनी के नागरिक अस्पताल में भर्ती है। इस सूचना को मिलने के बाद परिजन अस्पताल पहुंचे और इलाज के लिए आशीष को पीजीआइ लेकर गए थे। लेकिन उपचार के दौरान पीजीआइ में ही उसने दम तोड़ दिया था। पीजीआइ से अंबाला आने के बाद उन्हें एक चश्मदीद ने बताया कि शादी में डीजे पर डांस कर रहे कुछ युवकों ने आशीष के साथ मारपीट की थी और बाद में उसकी मौत हो गई। पुलिस ने एक्सीडेंट का मामला दर्ज किया। परिजनों ने आरोप लगाया है कि जब पुलिस के साथ परिजन फार्म हाउस में लगे सीसीटीवी कैमरे की रिकार्डिग देखने पहुंचे तो वहां पर भी परिजन को यह कहकर चलता कर दिया कि फुटेज डिलीट कर दी गई है।