News Description
बगैर आधार नहीं होगी जमीन की रजिस्ट्री

सोनीपत: शहर के अंतर्गत आने वाली जमीन की खरीद-फरोख्त में अब जालसाजी नहीं होगी, इसे रोकने के लिए जिला प्रशासन ने कठोर कदम उठाया है। अब शहर में जमीन की रजिस्ट्री बिना अंगूठा लगाए नहीं होगी। जमीन बेचने और खरीदने वाले का आधार कार्ड जांच करने के बाद ही जमीन की रजिस्ट्री होगी। इसमें जिला प्रशासन की ईकेवाइसी मशीन सहायता करेगी। प्रशासन ने यह सुविधा शुरू कर दी है।

किसी भी व्यक्ति को जमीन खरीदने के लिए बेचने वाले से अपने नाम से रजिस्ट्री करवानी पड़ती है। इसके लिए फाइल में खरीदने व बेचने वाले दोनों के कागजात लगाए जाते हैं। इनमें अब आधार कार्ड होना भी अनिवार्य हो गया है। आधार कार्ड की पहचान से नायब तहसीलदार या तहसीलदार जमीन की रजिस्ट्री करने की अनुमति प्रदान करते हैं। कई बार कुछ लोग जमीन बेचने में जालसाजी करने के लिए फर्जी कागजात लगा देते हैं। इससे जहां जमीन लेने वाले को नुकसान होता है, साथ ही अधिकारियों पर भी कार्रवाई की गाज गिरती है। ऐसे में जमीन खरीद-फरोख्त मे जालसाजी रोकने के लिए बेहतर कदम उठाया है।

प्रशासन की ओर से रजिस्ट्री कक्ष में इलेक्ट्रॉनिक नो योर कस्टमर (ईकेवाइसी) मशीन लगाई है। इस पर बेचने वाले व खरीदने वाले व्यक्ति का अंगूठा लगाने के बाद ही जमीन की रजिस्ट्री होगी।