# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
हॉस्पिटल में अबॉर्शन कराने पहुंची अनमैरिड लड़की, पुलिस ने युवक के खिलाफ किया केस दर्ज

फतेहाबाद. स्वास्थ्यविभाग, बाल कल्याण कमेटी की टीम ने एक सूचना के आधार पर महिला पुलिस के साथ भट्‌टूकलां में एक प्राइवेट अस्पताल में छापेमारी की। जहां एक अविवाहित किशोरी मिली। जोकि गर्भवती थी। लड़की की उम्र करीब 17 साल बताई गई है। टीम ने किशोरी को वहां से निकाल कर नागरिक अस्पताल में उपचार के लिए रेफर कर दिया। अब इस मामले में महिला थाना पुलिस ने एक युवक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।


डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. गिरीश ने बताया कि उच्च अधिकारियों को भट्‌टूकलां के एक प्राइवेट अस्पताल में किसी लड़की का गर्भपात किया जा रहा है। शिकायत मिलते ही सिविल सर्जन डॉ. मनीष बंसल ने टीम तैयार की। जिसमें नायब तहसीलदार प्रेम कुमार को ड्यूटी मजिस्ट्रेट के तौर पर लिया। उनके नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम, बाल कल्याण कमेटी महिला पुलिस टीम नियुक्त की गई। गुरुवार को भट्‌टूकलां में बने एक अस्पताल में छापेमारी की। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से कार्रवाई कर रहे डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. गिरीश ने मामले की जांच की तो इस दौरान 17 साल की एक लड़की उपचाराधीन मिली। जो गर्भवती थी और अविवाहित थी। अस्पताल संचालक से पूछताछ की गई तो उसने किशोरी 4-5 दिन से पेशाब में जलन की शिकायत को लेकर जांच करवाने के लिए उनके पास रही है। गुरुवार को वह दोबारा दवाई लेने के लिए आई थी। 
वहीं डॉक्टर ने बताया है कि अस्पताल की अल्ट्रासाउंड मशीन पिछले दो महीने से ताला पर सील लगाकर कमरा बंद कर रखा है, चूंकि विशेषज्ञ नहीं है। ही महिला रोष विशेषज्ञ है। लड़की के गर्भवती होने बारे में कोई सूचना नहीं थी और ही इन्होंने इस बारे में उन्हें कोई सूचना दी। 
किशोरी के गर्भवती होने की बात सामने आते ही किशोरी ने बाल कल्याण कमेटी के अधिकारियों को इस बारे में प्राथमिक पूछताछ में रतिया इलाके का रहने वाला बताया गया है। इस मामले में महिला थाना एसएचओ बिमला देवी ने बताया है कि उक्त युवक के खिलाफ पोक्सो एक्ट के दुष्कर्म का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस की तरफ से अभी जांच जारी है क्योंकि अभी किशोरी का नागरिक अस्पताल में इलाज चल रहा है।


अपनी बुआ के घर आई थी किशोरी
गर्भवतीअविवाहित किशोरी भट्‌टूकलां इलाके में अपनी बुआ के घर पिछले कुछ दिनों से रह रही थी। वैसे वह रतिया इलाके के एक गांव की रहने वाली है और बारहवीं कक्षा की छात्रा है। अब किशोरी का इलाज फतेहाबाद के नागरिक अस्पताल में चल रहा है। जहां नागरिक अस्पताल में डॉक्टरों की टीम ने किशोरी को जांच की तो उन्होंने छात्रा के गर्भवती होने की बात बताई। डॉ. ओपी दहमीवाल ने बताया है कि छात्रा तकरीबन 6 महीने की गर्भवती है। वैसे अभी छात्रा का अल्ट्रासाउंड करवाया जाएगा।