# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
गीता भवन किया गीता महायज्ञ

आध्यात्मिक गीता-ज्ञान प्रचारिणी सभा के तत्वावधान में रामपुरा मोहल्ला स्थित श्रीगीता भवन में मनाए जा रहे 68वें गीता जयंती समारोह के दूसरे दिन सुबह पूजा-पाठ के साथ श्रीगीता महायज्ञ किया गया। मंदिर के पुजारी पंडित सत्यवान शास्त्री ने मंत्रोच्चारण किए। इस दौरान सैकड़ों लोगों ने महायज्ञ में आहुति डाली। वहीं हिसार में प्रथम गीता जयंती समारोह मनाने का श्रेय गीता भवन व इसके संस्थापक ब्रह्मलीन डा. बृजमोहन फिदा को जाता है। पिछले 67 वर्षो से यही परंपरा चली आ रही है। गीता का प्रचार करने में गीता भवन का अमूल्य योगदान रहा है। उपस्थित लोगों ने सभा के निर्वतमान प्रधान स्वर्गीय प्रबोध बख्शी के चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित किए। महायज्ञ में आहुति डालने वालों में गीता भवन की प्रधान प्रेमलता बख्शी, दीनदयाल तायल, विनोद गोयल, गगन ओबरॉय, रामस्वरुप महता, सुनील महता, कृष्ण महता, विपिन भंडारी एडवोकेट, कुलदीप चोपड़ा, रामकिशन चावला, भूषण चौधरी सहित अनेक लोग शामिल थे।आध्यात्मिक गीता-ज्ञान प्रचारिणी सभा के तत्वावधान में रामपुरा मोहल्ला स्थित श्रीगीता भवन में मनाए जा रहे 68वें गीता जयंती समारोह के दूसरे दिन सुबह पूजा-पाठ के साथ श्रीगीता महायज्ञ किया गया। मंदिर के पुजारी पंडित सत्यवान शास्त्री ने मंत्रोच्चारण किए। इस दौरान सैकड़ों लोगों ने महायज्ञ में आहुति डाली। वहीं हिसार में प्रथम गीता जयंती समारोह मनाने का श्रेय गीता भवन व इसके संस्थापक ब्रह्मलीन डा. बृजमोहन फिदा को जाता है। पिछले 67 वर्षो से यही परंपरा चली आ रही है। गीता का प्रचार करने में गीता भवन का अमूल्य योगदान रहा है। उपस्थित लोगों ने सभा के निर्वतमान प्रधान स्वर्गीय प्रबोध बख्शी के चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित किए। महायज्ञ में आहुति डालने वालों में गीता भवन की प्रधान प्रेमलता बख्शी, दीनदयाल तायल, विनोद गोयल, गगन ओबरॉय, रामस्वरुप महता, सुनील महता, कृष्ण महता, विपिन भंडारी एडवोकेट, कुलदीप चोपड़ा, रामकिशन चावला, भूषण चौधरी सहित अनेक लोग शामिल थे।