News Description
देवीलाल पार्क में भी तीन साल बाद भी नहीं बने शौचालय

रोहतक : सेक्टरों की मार्केट हो या फिर पार्क। शौचालयों का भारी टोटा है, लेकिन सुनने वाला कोई नहीं है। 47 पार्कों में करीब 49 शौचालय होने चाहिए। जिसमें शहर के सबसे बड़े पार्क देवीलाल में भी दो शौचालयों के निर्माण की जरूरत है। अभी तक अंदर जाकर एक शौचालय है। लोगों के विरोध के बाद इस शौचालय से ताला खुल सका था। फिलहाल मार्केट से लेकर पार्कों में शौचालयों की जरूरत को लेकर व्यवस्था नहीं हो सकी। जनता पूरे प्रकरण में नाराजगी जता रही है। सेक्टरों में फिलहाल प्रशासन की अनदेखी कहे या फिर लापरवाही। शहरी क्षेत्र के कुल 47 पार्क हैं, लेकिन शौचालय देवीलाल पार्क व हुडा सिटी पार्क में ही एक-एक शौचालय है। हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण यानि हुडा और नगर निगम प्रशासन तक मामला पहुंच चुका है। यह भी मांग जोर पकड़ने लगी है कि सेक्टरों के बड़े पार्कों में शौचालयों का निर्माण होना चाहिए।

शहर के सबसे बड़े पार्कों में शुमार देवीलाल पार्क में सिर्फ एक शौचालय है। यह शौचालय भी सुबह दस बजे तक खुलता है, जबकि शाम चार बजे से रात आठ बजे तक खुलता है। यदि इन पार्कों में जनता के पहुंचने की बात करें तो शहर में सर्वाधिक भीड़ इसी पार्क में होती है। करीब छह से आठ हजार तक लोग यहां रोजाना टहलने आते हैं। सेक्टर-1 के प्रधान कदम ¨सह अहलावत कहते हैं कि करीब दो शौचालयों और भी जरूरत है, लेकिन अफसरों ने अभी तक कोई काम नहीं किया।