# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
जीएसटी के खिलाफ उतरे बावल के दुकानदार

बावल : बावल नगर पालिका द्वारा अपनी 250 दुकानों के किरायेदारों से जीएसटी के साथ पुराना सर्विस टैक्स वसूलने के खिलाफ दुकानदारों ने सोमवार को बैठक की। दुकानदारों ने कहा कि नपा अधिकारी इस समस्या का समाधान करने की बजाय उनसे जबरन वसूली पर उतरे हुए हैं। इसके खिलाफ आंदोलन के अलावा कोई विकल्प नहीं है। दुकानदारों ने बैठक में 13 सदस्यीय संघर्ष कमेटी का गठन कर हरीश मेहंदीरत्ता को प्रधान मनोनीत किया।

विश्रामगृह में आयोजित बैठक में पूर्व विधायक रामेश्वरदयाल व सूबेदार सूरजभान ¨सह ने कहा कि नगर पालिका की बनीपुर, खेड़ामुरार रोड, झाबुआ रोड, प्राणपुरा रोड, नैहचाना रोड पर बनी लगभग 250 दुकानों का नगर पालिका ने न केवल किराया बढ़ा दिया है अपितु किराए के साथ जीएसटी व जीएसटी लागू होने से पहले का सर्विस टैक्स वसूला जा रहा है। उन्होंने कहा कि एक तरफ सभी सड़क मार्गों पर चल रहे कार्यों की वजह से तमाम दुकानदार परेशान हैं, जिसकी वजह से कामकाज भी प्रभावित हो रहा है। वहीं नपा अब टैक्स की मार लगा रही है। सर्विस टैक्स किराए के साथ लेना था तो पहले ही क्यों नहीं लिया गया, अब पुराना कई सालों का सर्विस टैक्स क्यों लिया जा रहा है। बैठक में निश्चित किया गया कि तीन दिसंबर को जनस्वास्थ्य राज्यमंत्री डॉ. बनवारीलाल को ज्ञापन सौंपा जाएगा।