# पाक PM के आरोप पर भारत का पलटवार-टेररिस्तान है पाकिस्तान         # मोदी का वाराणसी दौरा आज, 305 करोड़ से बने ट्रेड सेंटर का करेंगे इनॉगरेशन         # समुद्र में बढ़ेगा भारत का दबदबा, पहली स्कॉर्पिन पनडुब्बी तैयार         # रोहिंग्या विवाद के बीच म्यांमार को सैन्य साजो-सामान दे सकता है भारत         # चीन में सोशल मीडिया पर इस्लाम विरोधी शब्दों के प्रयोग पर लगी रोक         # परवेज मुशर्रफ का दावा-बेनजीर की हत्या के लिए उनके पति जरदारी जिम्मेदार          # भारत ने अफगानिस्तान में 116 सामुदायिक विकास परियोजनाओं की ली जिम्मेदारी         # जम्मू-कश्मीर में दो आतंकी गिरफ्तार, सशस्त्र सीमाबल पर किया था हमला        
News Description
एसएचओ और एडिशनल एसएचओ समेत 3 सस्पेंड तीन आईओ को नोटिस

रोहतक.एसपी के आदेश के बावजूद आमजन की शिकायतों पर कार्रवाई न करना सिविल लाइन थाना प्रभारी नीरज, अतिरिक्त प्रभारी एसआई धर्मबीर और मुंशी ईएचसी सुरेंद्र नैन को भारी पड़ गया। एसपी पंकज नैन ने बुधवार शाम को तीनों को सस्पेंड कर दिया। जांच में लापरवाही बरतने पर थाने के तीन जांच अधिकारियों (आईओ) को चेतावनी नोटिस जारी किए। दो घंटे की पड़ताल के दौरान एसपी ने संतोषजनक ड्यूटी पर दस जांच अधिकारियों को रिवाॅर्ड देने की घोषणा भी की।
दरअसल, एसपी नैन पिछले एक सप्ताह से थाने की गतिविधियों पर गुप्त नजर रखे हुए थे। सूचना थी कि सिविल लाइन थाने व उसके अंतर्गत चौकियों में शिकायतों को दर्ज नहीं किया जाता और समयानुसार कार्रवाई नहीं होती। एसपी नैन बुधवार शाम सवा सात बजे थाने पहुंचे और सभी चौकी इंचार्जों व जांच अधिकारियों को तलब कर लिया। अधिकांश आईओ खाली हाथ पहुंचे तो फटकार के बाद रिकॉर्ड लेकर आए। इस दौरान एसपी ने पेंडिंग केसों की स्टेट्स रिपोर्ट खंगाली तथा डीडीआर की बारीकी से जांच पड़ताल की।
बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के नाम पर फर्जीवाड़े में केस दर्ज 
...मंगलवार को क्या राम राज्य आ गया था
एसपी नैन ने दिनभर में आई शिकायतों का ब्यौरा मांगा तो डीडीआर लाकर उनके सामने रख दी गई। एसपी ने डीडीआर देखी तो उसमें बुधवार को छह शिकायतें दर्ज मिली, जबकि मंगलवार का कॉलम खाली मिला। एसपी ने कहा कि क्या मंगलवार को राम राज्य आ गया था, जो एक भी शिकायत नहीं आई। फटकार लगाते हुए एसपी ने कहा कि आने की सूचना मिलते ही पुरानी शिकायतों को आनन-फानन में दर्ज कर लिया गया। फरियादियों द्वारा दी गई शिकायतें मंगवाई और पीड़ितों को कॉल कर शिकायत का स्टेटस पूछा। छह शिकायतों में कुछ शिकायतें पुरानी मिलीं तो एसपी ने कड़ी चेतावनी दी।

प्रभारी थे छुट्टी पर
एसएचओ नीरज छुट्टी पर चल रहे हैं। उनकी गैरहाजिरी में अतिरिक्त एसएचओ के तौर पर एसआई धर्मबीर थाने का चार्ज संभाल रहे थे। एसपी के पास शिकायतें तो एसएचओ द्वारा कार्रवाई न करने की थी, लेकिन उनके छुट्टी पर जाने के बाद एडिशनल एसएचओ द्वारा भी कार्रवाई करने में लापरवाही की बात सामने आई।