News Description
सब्जियों की कीमत पूछते ही ठंड में आ रहा पसीना

सर्दियों में हमेशा सब्जी सस्ती होती थी, मगर इस बार उल्टा हो रहा है। सब्जी के दाम घटने के बजाय बढ़ रहे हैं। अमूमन इस सीजन में पंद्रह से बीस रुपये किलो मिलने वाला टमाटर अपने रेट से लोगों को चेहरा लाल कर रहा है। टमाटर के दाम साठ रुपये प्रति किलो से नीचे आ ही नहीं रहे हैं। प्याज भी इतना महंगा कि बिना काटे ही आंख में पानी आ जा रहा है। लोग सलाद खाना व दाल में तड़का देना छोड़ रहे हैं। गोभी व गाजर के दाम भी लोगों को मुंह चिढ़ा रहे हैं।

शहर की तमाम सब्जी मंडी व खुदरा बाजार में कहीं भी प्याज 50 रुपये से किलो से कम नहीं बिक रहा है। सुशांत लोक, डीएलएफ जैसे पॉश इलाकों में तो प्याज का दाम 70 रुपये किलो तक पहुंच जाता है। हालांकि सब्जी वाले भी इलाका देख के रेट तय करते हैं। जबकि सदर बाजार स्थित सब्जी मंडी में वही प्याज 40 से 50 रुपये किलो में बिक रहा है। मंडी के आढ़तियों की मानें तो दिसंबर के पहले सप्ताह में बाजार में नई प्याज आते ही दाम गिरने शुरू हो जाएंगे। प्याज और टमाटर के साथ अदरक, हरी मटर, गोभी, बैगन, हरी मिर्च, ¨भडी आदि के दाम भी काफी चढ़े हुए हैं।