# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
स्मारक के लिए देश-विदेश से चंदा,अभय चौटाला ने की एक करोड़ देने की घोषणा

 रोहतक: जसिया में निर्मित होने वाले दीनबंधु छोटूराम प्रतियोगी परीक्षा एवं कौशल विकास संस्थान के लिए समाज के लोगों ने दिल खोलकर चंदा दिया। सामर्थ के हिसाब से चंदा देश के विभिन्न राज्यों से पहुंचे समाज के लोगों ने दिया। नेता प्रतिपक्ष और इनेलो के नेता अभय ¨सह चौटाला से आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक ने 51 लाख रुपये मांगे।

अपने संबोधन के बाद अभय ¨सह ने एक करोड़ रुपये देने की घोषणा की। जब समापन संबोधन बतौर बोलने मंच पर बोलने के लिए केंद्रीय मंत्री चौधरी बीरेंद्र ¨सह पहुंचे तो उन्होंने नेता प्रतिपक्ष पर चुटकी ली। साथ ही कि चंदा तो सामर्थ के हिसाब से दिया जाता है, लेकिन मेरी इनकी बराबर सामर्थ नहीं। हालांकि बाद में उन्होंने घोषणा की कि इस्पात मंत्री होने के नाते संस्थान के लिए मेरी तरफ से लोहे का इंतजाम किया जाएगा। इसके अलावा तमाम पूर्व मंत्रियों, पूर्व विधायकों समाज के तमाम लोगों सहित यशपाल मलिक, अशोक बल्हारा व रोहतक की दूसरी पंचायतों ने भी चंदा देने का एलान किया है।

इस्पात मंत्री ने अपने भाषण के समापन पर आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक पर लगाए गए आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया। साथ ही दो टूक कहा है कि जिन्हें खामियां नजर आ रही हैं, वह राजनीतिक करने वाले लोग हैं। यशपाल का पक्ष लेते हुए कहा कि चंदे में किसी भी प्रकार का हेरफेर नहीं है, जो भी चंदा समाज ने दिया है, उसकी पाई-पाई का हिसाब है। वहीं, चंदे को लेकर की गई घोषणाओं पर चुटकी ली कहा कि जल्द ही चंदा इकट्ठा कर लें