News Description
इंस्पेक्टर की नौकरी लगवाने का झांसा देकर दो भाइयों ने साढ़े तीन लाख लूटे

 हरियाणा पुलिस में इंस्पेक्टर लगवाने का झांसा देकर दो भाइयों ने एक युवक से 3 लाख 50 हजार की धनराशि हड़प ली। युवक को आठ साल तक नौकरी का झांसा देते रहे। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है।15 फरवरी को था एग्जाम

- चौधरीवास के ईश्वर सिंह ने बताया कि उसने 2008 में पुलिस में इंस्पेक्टर पद के लिए आवेदन किया था। 15 फरवरी 2009 को लिखित परीक्षा थी। इस दौरान उसकी मुलाकात मल्लापुर के रमेश कुमार से हुई। उसने जालिब खेड़ी के रोशनलाल से मुलाकात कराई।

- रोशनलाल ने अपने को पूर्व मंत्री विनोद कुमार शर्मा का खास आदमी बताते हुए कहा कि वह उसकी नौकरी लगवा देगा। इसके लिए 10 लाख की डिमांड की। रोशनलाल ने उसके शास्त्री नगर स्थित घर आना-जाना शुरू कर दिया था। 13 फरवरी 2009 को आरोपी उसके घर से 1 लाख रुपए ले गया।

- तीन फोन करके कहा कि 2 लाख 50 हजार और चाहिए शेष धनराशि ज्वाइनिंग लैटर आने के बाद देनी है। 15 मई 2009 की शाम रोशन एवं उसका भाई वेद प्रकाश आए और ढाई लाख रुपए ले गए, जो उसने रिश्तेदार एवं परिचितों से उधार लेकर दिए थे। काफी समय गुजरने के बाद न तो कोई लैटर आया और न सूचना।