# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
हल्ला बोल नहीं सामान्य रैली करेंगे सामाजिक चिकित्सक

करनाल में सामाजिक चिकित्सक संघ द्वारा 26 नवंबर रविवार को आयोजित होने वाली हल्ला बोल रैली अब सामान्य रैली होगी। यह बात सामाजिक चिकित्सक संघ के जिला प्रधान रणजीत ओड ने कही। वह रेस्ट हाउस में संघ के सदस्यों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि संघ द्वारा हल्ला बोल रैली ऐलान के बाद मुख्यमंत्री द्वारा संघ के प्रतिनिधिमंडल को बुलाया गया था।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मिलने वाले प्रतिनिधिमंडल में संघ के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष सैनी, प्रदेश उपाध्यक्ष बलबीर कौशिक, करनाल से ऋषिपाल सैनी, सिरसा से राजपाल वर्मा व अन्य संगठनों के प्रतिनिधि मिले थे। मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों को आश्वासन दिया कि अब संघ के सदस्यों पर छापामार कार्रवाई नहीं की जाएगी तथा दर्ज मामलों के बारे में भी संज्ञान लेंगे। इसके अलावा मान्यता देने के बारे में उन्होंने कहा कि इसके लिए आयुष विभाग को बोर्ड गठित कर जानकारी प्राप्त कर अन्य राज्यों की तर्ज पर मान्यता देने का कार्य करने का आश्वासन दिया। ओड ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा दिए गए आश्वासन के बाद प्रदेश प्रतिनिधिमंडल पर आशा व्यक्त करते हुए हल्ला बोल रैली की बजाय शांतिपूर्वक रैली करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि मुख्यमंत्री अपने आश्वासन पर खरे उतरेंगे तथा सामाजिक चिकित्सक संघ के सदस्यों को बिना वजह परेशान नहीं किया जाएगा। बैठक में डा. श्याम सुदंर, डा. कर्मबीर लांबा, डा.पंछीराम, डॉ. मुरारी लाल, डा.राजपाल, डा.मक्खन लाल, डा. हरजिन्द्र ¨सह, डा.देसराज, डा.रामस्वरूप सोतरिया, डा.विनोद, डा.सुरेश पंचारिया, डा.अ‌र्श्वनी, डा.इकबाल, डा. विनोद मेहंदीरत्ता, डा.कुलवंत ¨सह, डा.हेमराज व विभिन्न गांवों से आए चिकित्सकों ने भाग लिया।