News Description
आठ एकड़ भूमि में बनेगी आइटीआइ

रादौर : क्षेत्र में पहली सरकारी आइटीआइ गांव नाचरौन में 8 एकड़ पंचायती भूमि पर बनेगी। पंचायत की ओर से 33 वर्षों के लिए भूमि को सरकार को ठेके पर दी है। बृहस्पतिवार को विधायक श्याम¨सह राणा की देखरेख में आइटीआइ बनाने के लिए भूमि की निशानदेही की गई।

वही पंचायत की ओर से गांव में सरकारी आईटीआई बनाए जाने पर लडडू बांटकर खुशिया मनाई गई। इस अवसर पर विधायक श्याम ¨सह राणा ने बताया कि क्षेत्र के लोगों की मांग पर बनाई जा रही है। आइटीआइ में कुल 10 ट्रेड होगी। बच्चों को विशेष लाभ मिलेगा। क्षेत्र के हजारों बच्चे दूर दराज के क्षेत्र में स्थित आईटीआई में पढ़ने जाते थे। अब क्षेत्र में ही आईटीआइ खुलने से सभी को लाभ मिलेगा। भाजपा सरकार ने लोगों की मांग पर पहले गांव रादौरी में लगभग 26 एकड़ में सरकारी कॉलेज बनवाया है। भाजपा सरकार जनता की हर मांग को पूरा करने में लगी हुई है, जिसका लाभ युवा पीढ़ी को मिलेगा। नाचरौन के सरपंच एडवोकेट कर्म¨सह राणा ने कहा कि भाजपा सरकार ने उनके गांव में आइटीआइ बनाने क घोषणा करके सराहनीय कार्य किया है, जिसके लिए गांव व क्षेत्र के लोग मुख्यमंत्री मनोहर लाल व विधायक श्याम ¨सह राणा के आभारी है।

इस अवसर पर ¨प्रसिपल आइटीआइ यमुनानगर बलवंत ¨सह, कर्म ¨सह नाचरौन सरपंच, साहब ¨सह, श्योसिह पंच, ओमबीर पंच, राजपाल, सचिन पंच, जगमाल, जयपाल, संजू राणा, दीपक प्रताप, कानूनगो संजीव शर्मा, पटवारी राजेश कुमार, एसडीओ पीडब्ल्यूडी मौके पर उपस्थित थे