News Description
मीटर लगवाने के एवज में लाइनमैन ने मांगे 10 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ धरा

जींद। जींद जिले के कस्बा उचाना में बुधवार को विजिलेंस डिपार्टमेंट ने बिजली निगम के एक लाइनमैन को रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। आरोप है कि उसने बिजली के घरेलू कनेक्शन के लिए मीटर लगवाने वाले से 10 हजार रुपए घूस मांगी थी। इसकी शिकायत विजिलेंस तक पहुंची तो आज उसे रेड करके रंगे हाथ अरेस्ट कर लिया गया। ये है पूरा मामला...
 
 
- विजिलेंस इंस्पेक्टर भूपेंद्र शर्मा के मुताबिक उन्हें जिले के गांव सफाखेड़ी के रहने वाले विकास नामक व्यक्ति ने शिकायत की थी।
- उसने बताया कि उसे बिजली के घरेलू कनेक्शन के लिए मीटर लगवाना था, जिसके सिलसिले में वह बिजली निगम के दफ्तर पहुंचा तो वहां कार्यरत लाइनमैन अनिल ने उससे 10 हजार रुपए की मांग की।
- बकौल शिकायतकर्ता विकास उसे यह बात पसंद नहीं थी और इसी के चलते उसने विजिलेंस को शिकायत कर दी। विजिलेंस विभाग की तरफ से कुछ नोट मार्क करके उसे दिए गए और लाइनमैन अनिल को देने के लिए कहा।
- बुधवार सुबह विकास फिर से बिजली निगम के दफ्तर पहुंचकर लाइनमैन अनिल से मिला तो उसने वही पैसों वाली बात की। इस पर विकास ने विजिलेंस की तरफ से दिए गए 2-2 हजार के पांच नोट उसे थमा दिए।
- दूसरी तरफ जैसे ही अनिल ने पैसे पकड़े, पहले से सतर्क खड़ी सतर्कता विभाग की टीम ने तुरंत उसे रंगे हाथ काबू कर लिया।
​-विजिलेंस इंस्पेक्टर भूपेंद्र शर्मा ने बताया कि टीम ने आरोपी लाइनमैन अनिल को अरेस्ट कर उसके खिलाफ भ्रष्टाचार विरोधी अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है।