News Description
सरकार पर कर्मचारियों की अनदेखी का आरोप

रादौर : रिटायर्ड कर्मचारी संघ की एक बैठक का आयोजन शहीद उधम ¨सह धर्मशाला में किया गया। बैठक की अध्यक्षता ब्लॉक प्रधान लालचंद कांबोज ने की। बैठक में 16 नवंबर को रोहतक में हुए सम्मेलन के फैसलों की जानकारी सदस्यों को दी गई।

उन्होंने बताया कि 25 नवंबर को जिला कार्यकर्ता सम्मेलन किया जाएगा। वहीं चार से सात दिसंबर तक चार दिन का उपायुक्त कार्यालय पर क्रमिक धरना दिया जाएगा। जिला संगठन सचिव नरेन्द्र अग्रवाल ने कहा कि सरकार ने पूर्व कर्मचारियों के लिए कैशलेस मेडिकल सुविधा प्रदान करने का नोटिफिकेशन जारी किया गया। यह मात्र छलावा साबित हुआ। सरकार पूर्व कर्मचारियों को ऐसी स्टेज पर कैशलेस मेडिकल सुविधा दे रही है। जब व्यक्ति मरने के नजदीक हो। आश्रितों को यह सुविधा नहीं दी गई है। 65 साल की आयु के बाद 5 प्रतिशत पेंशन बढ़ोतरी, हर पांच वर्ष पर बढ़ाने की प्रक्रिया को आगे नहीं बढ़ाया गया। छठे वेतन आयोग की सिफारिशों के अनुसार जो विसंगतियां रह गई थी। उन्हें दूर नहीं किया गया।

सातवें वेतन आयोग के अनुसार मेडिकल भत्ता नहीं बढ़ाया गया। इस अवसर पर कुलदीप शर्मा, प्यारेलाल तंवर, अमरनाथ सैनी, सुरेन्द्र चौहान, ज्ञानचंद सैनी, रामचंद्र, सतपाल मलिक, बलबीर ¨सह, कृष्ण ग्रोवर व अन्य उपस्थित थे।