# पाक PM के आरोप पर भारत का पलटवार-टेररिस्तान है पाकिस्तान         # मोदी का वाराणसी दौरा आज, 305 करोड़ से बने ट्रेड सेंटर का करेंगे इनॉगरेशन         # समुद्र में बढ़ेगा भारत का दबदबा, पहली स्कॉर्पिन पनडुब्बी तैयार         # रोहिंग्या विवाद के बीच म्यांमार को सैन्य साजो-सामान दे सकता है भारत         # चीन में सोशल मीडिया पर इस्लाम विरोधी शब्दों के प्रयोग पर लगी रोक         # परवेज मुशर्रफ का दावा-बेनजीर की हत्या के लिए उनके पति जरदारी जिम्मेदार          # भारत ने अफगानिस्तान में 116 सामुदायिक विकास परियोजनाओं की ली जिम्मेदारी         # जम्मू-कश्मीर में दो आतंकी गिरफ्तार, सशस्त्र सीमाबल पर किया था हमला        
News Description
गोभक्तों ने रोहतक में सहकारिता मंत्री के ऑफिस पर पाबंदी का चिपकाया नोटिस

रोहतक |सरकार द्वारा 5 दिन में गोचारण भूमि विकास बोर्ड बनाने की मांग नहीं माने जाने की चेतावनी के दूसरे दिन ही मंगलवार को गोभक्तों ने सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर के कार्यालय पर नोटिस चस्पा कर दिया। साथ ही 24 घंटे के अंदर विधानसभा, मुख्यमंत्री, मंत्री, विधायक और प्रदेशभर के भाजपा पदाधिकारियों के अावास पर नोटिस लगाने का लक्ष्य रखा गया है। नोटिस में मंदिरों व धार्मिक कार्यक्रमों से उनके बहिष्कार का ऐलान किया गया है।

रोहतक के हुडा पार्क में अनशनरत संत गोपाल दास ने बताया कि फरीदाबाद में 24 जून से आयोजित होने वाली दो दिवसीय गोकथा के आयोजकों ने गो सेवा आयोग हरियाणा के चेयरमैन भानीराम मंगला को मुख्य अतिथि बनाने से इनकार कर दिया है। मंगलवार को मानसरोवर पार्क में उपस्थित गोरक्षकों ने नोटिस लगाने की शुरुआत सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर के कार्यालय से की। गोरक्षक अमित शर्मा ने बताया कि 24 घंटे के अंदर सीएम अावास, विधानसभा, विधायक आैर भाजपा के पदाधिकारियों के घरों पर नोटिस चस्पाने का लक्ष्य है।
 
अनशन के 19वें दिन गोशाला प्रबंधकों ने दिया समर्थन
मानसरोवर पार्क में चल रहे गोरक्षा आंदोलन के दौरान सोमवार को अनशनरत संत गोपालदास से मिलने पहुंचे संतों के प्रतिनिधिमंडल द्वारा सरकार की उदासीनता पर रोष प्रकट करते हुए यह फैसला किया गया था। अनशन के 19वें दिन महेंद्रगढ़ की तीन गोशालाओं के प्रधान ईश्वर सिंह, रूपचंद्र आर्य व बहादुर सिंह, श्री अखिल भारतीय गोशाला पहरावर के संस्थापक नरेश शर्मा ने मानसरोवर पार्क पहुंचकर संत गोपालदास को अपना समर्थन दिया। कहा कि गोमाता के अस्तित्व की इस सत्याग्रह आंदोलन में हर कदम पर साथ रहेंगे।