News Description
प्री-मानसून ने भिगाेया पूरा हरियाणा, जून में अब तक सामान्य से 146% ज्यादा गिरा पानी

प्री-मानसूनऔर पश्चिमी विक्षोभ की बारिश ने मंगलवार को प्रदेश को भिगो दिया। औसतन 11.6 एमएम बारिश हुई। रोहतक के बहादुरगढ़ में सबसे ज्यादा 53.2 एमएम पानी गिरा। जिले में औसतन बारिश के हिसाब से सबसे ज्यादा 32.6 एमएम बारिश सोनीपत में हुई। 1 जून से 20 जून तक हरियाणा में 54 एमएम बारिश हुई है। इस अवधि में यह सामान्यत: 21.9 एमएम होती है। यानी इस बार सामान्य से 146% अधिक वर्षा हुई। पंचकूला और यमुनानगर को छाेड़कर सभी जिलों में सामान्य से ज्यादा बारिश हुई है। झज्जर, भिवानी, पलवल, मेवात, रेवाड़ी में तो यह 300% से भी ज्यादा हुई। पंचकूला में 45% कम और यमुनानगर में सामान्य बारिश हुई। इससे 32 लाख हेक्टेयर में होने वाली खरीफ फसलों की बुवाई में लाभ होगा। 

हिसार शहर में 36.7 एमएम बारिश हुई। 

मंगलवार को प्रदेश में औसतन 11.6 मिलीमीटर बारिश हुई 

2 दिन में यूपी पहुंचेगा मानसून प्रदेश में तय समय पर आएगा 

मौसमविभाग चंडीगढ़ के चेयरमैन सुरेंद्र पाल सिंह के मुताबिक हरियाणा में प्री-मानसून 10 जून के आसपास दस्तक देता है। इस बार यह करीब 10 दिन लेट है। बुधवार को भी कुछ इलाकों में अच्छी बरसात हो सकती है। मानसून 27 या 28 जून तक दस्तक दे सकता है। यह यूपी में अगले 48 घंटे में पहुंच जाएगा। हरियाणा में मानसून सीजन (1 जून से 30 सितंबर) में सामान्यत: करीब 462 एमएम बारिश होती है। 

नरवाना (जींद) | मंगलवारसुबह बारिश के कारण बिजली के खंभे में करंट आने से नरवाना में दो दोस्तों की मौत हो गई। दरअसल, सोमवार रात से बारिश हो रही थी। टैक्सी स्टैंड के पास फूल सजावट की दुकान चलाने वाला बाबूराम काॅलोनी निवासी सचिन सुबह दुकान पर पहुंचा तो बाहर पानी भरा था। पानी के बीच से गुजरते हुए उसने दुकान खोलने के लिए छप्पर के पास लगे खंभे को हाथ लगाया तो करंट से झटका लगा और वह पानी में जा गिरा। उसी दौरान हॉकर का काम करने वाला रामनगर निवासी गुरजीत हरिकेश अपने दोस्त सचिन की दुकान की तरफ रहा था। उसने देखा की सचिन दुकान के बाहर पानी में पड़ा है। उसने साइकिल खड़ी कर उसे उठाने की कोशिश की तो वह भी करंट की चपेट में गया। दोनों दोस्तों की मौके पर ही मौत हो गई। बिजली का तार टूटने से खंभे में करंट हुआ था।